ताज़ा खबर
 

कांग्रेस में राहुल राज, गांधी 16 दिसंबर को अपना काम संभालेंगे कांग्रेस अध्यक्ष

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी को सोमवार को पार्टी का अध्यक्ष चुन लिया गया। वे निर्विरोध चुने गए। कांग्रेस के इस शीर्ष पद के लिए केवल राहुल गांधी ने ही नामांकन किया था।

Author नई दिल्ली | December 12, 2017 12:48 AM
16 दिसंबर से कांग्रेस अध्यक्ष की कमान संभालेंगे राहुल गांधी

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी को सोमवार को पार्टी का अध्यक्ष चुन लिया गया। वे निर्विरोध चुने गए। कांग्रेस के इस शीर्ष पद के लिए केवल राहुल गांधी ने ही नामांकन किया था। उनके सभी 89 नामांकन पत्र सही पाए गए। कांग्रेस अध्यक्ष पद के चुनाव अधिकारी मुल्लापल्ली रामचंद्रन ने उनके अध्यक्ष चुने जाने की घोषणा की। राहुल गांधी 16 दिसंबर को अपना काम संभालेंगे। इस एलान के बाद अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी मुख्यालय के सामने कार्यकर्ताओं ने ढोल बजाकर और पटाखे फोड़कर अपनी खुशी का इजहार किया।

इस चुनाव के साथ ही पार्टी में पीढ़ीगत बदलाव हुआ है। राहुल गांधी अब अपनी मां सोनिया गांधी की जगह अध्यक्षी संभालेंगे। सोनिया 19 साल तक इस पद पर रहीं। वे 1998 में कांग्रेस की अध्यक्ष बनी थीं। राहुल गांधी ने चार दिसंबर को अध्यक्ष पद के लिए निर्वाचन पत्र दाखिल किया था। उस समय पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह, पार्टी के लगभग सभी वरिष्ठ और युवा नेता, कांग्रेस के अन्य संगठनों के नेता, विभिन्न वर्तमान और पूर्व मुख्यमंत्री पार्टी मुख्यालय में जुटे थे। तब यह संकेत देने का प्रयास किया गया था कि पार्टी में हर स्तर पर राहुल गांधी के लिए समर्थन है। उन्हें जनवरी 2013 में उपाध्यक्ष बनाया गया था।

HOT DEALS
  • Samsung Galaxy J3 Pro 16GB Gold
    ₹ 7490 MRP ₹ 8800 -15%
    ₹0 Cashback
  • jivi energy E12 8GB (black)
    ₹ 2799 MRP ₹ 4899 -43%
    ₹280 Cashback

अध्यक्ष पद पर उनके निर्वाचन का एलान करते हुए रामचंद्रन ने कहा- राहुल गांधी को पार्टी के संविधान के अनुसार अध्यक्ष घोषित किया गया है। कांग्रेस अध्यक्ष पद के चुनाव में सोमवार को नामांकन वापस लेने की अंतिम तारीख थी। उन्होंने कहा, मैदान में एकमात्र उम्मीदवार (राहुल) रह गए हैं। मैं भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के संविधान के अनुच्छेद 17(डी) के अनुसार राहुल गांधी को भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस का अध्यक्ष निर्वाचित घोषित करता हूं। उन्होंने बताया कि राहुल गांधी 16 दिसंबर को अध्यक्ष निर्वाचित होने का प्रमाणपत्र लेने के लिए एआइसीसी मुख्यालय जाएंगे। सोनिया गांधी आधिकारिक तौर पर 132 साल पुरानी पार्टी की बागडोर अपने बेटे को 16 दिसंबर की सुबह 11 बजे सौंपेंगी।

इसके बाद राहुल गांधी कांग्रेस मुख्यालय में देश भर के नेताओं से मिलेंगे। नेहरू-गांधी परिवार के वंशज 47 वर्षीय राहुल गांधी के सामने पार्टी की खोई हुई प्रतिष्ठा को लौटाने चुनौती है। पार्टी के सितारे हाल वर्षों में गर्दिश में रहे हैं। एक समय पूरे देश में कांग्रेस की सरकारें थीं। फिलहाल, सिर्फ पांच राज्यों और केंद्रशासित प्रदेश पुदुचेरी में उसकी सरकार है। कांग्रेस 2014 के लोकसभा चुनाव के बाद एक के बाद एक विधानसभा चुनावों में हार का सामना कर रही है। हालांकि, उसे पंजाब विधानसभा चुनाव में जीत मिली थी। बतौर अध्यक्ष राहुल गांधी की ताजपोशी के ठीक दो दिनों के बाद गुजरात और हिमाचल विधानसभा चुनाव के चुनाव परिणाम आएंगे। राहुल ने गुजरात में कांग्रेस के लिए जोर-शोर से प्रचार किया है और अगर उनकी पार्टी चुनाव में बढ़िया प्रदर्शन करती है तो यह उनके राजनीतिक भविष्य के लिए संजीवनी का काम करेगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App