ताज़ा खबर
 

राहुल गांधी ने निर्मला सीतारमण को बताया ‘राफेल मंत्री’, मांगा इस्‍तीफा

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुरुवार को रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण को 'राफेल मंत्री' बताते हुए उनसे इस्तीफे की मांग की।

Author September 20, 2018 12:35 PM
रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण। (एक्सप्रेस फोटोः रेणुका पुरी)

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुरुवार को रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण को ‘राफेल मंत्री’ बताते हुए उनसे इस्तीफे की मांग की। राहुल की यह टिप्पणी हिंदुस्तान एरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) के पूर्व प्रमुख टी सुवर्णा राजू द्वारा निर्मला के उन दावों को खारिज करने के बाद आई है, जिसमें निर्मला ने कहा था कि सरकारी स्वामित्व वाली एचएएल के पास लड़ाकू जेट बनाने की क्षमता नहीं है। राहुल ने कहा, “आरएम (राफेल मंत्री) ने भ्रष्टाचार को छिपाने के लिए फिर झूठ बोला और पकड़ी गईं। एचएएल के पूर्व प्रमुख टी.एस राजू ने उनके झूठ की पोल खोल दी कि एचएएल के पास राफेल बनाने की क्षमता नहीं थी। उन्होंने कहा, “उनका रुख अस्प्षट है और इसलिए उन्हें इस्तीफा देना चाहिए। राफेल सौदे को लेकर सीतारमण ने एक समाचार चैनल को दिए साक्षात्कार में कहा था कि रक्षा मंत्रालय के तहत काम कर रही एचएएल के पास राफेल बनाने की क्षमता नहीं है। इस सौदे को लेकर एनडीए और कांग्रेस के बीच वाकयुद्ध जारी है।

गौरतलब है कि इससे पहले कांग्रेस ने विजाय माल्या के मामले में अरुण जेटली के इस्तीफे की भी डिंमाड कर चुकी है। इस मामले में कांग्रेस का आप पार्टी ने भी समर्थन किया है। आप पार्टी के वित्त मंत्री अरुण जेटली से इस्तीफे की मांग की और कहा कि उन्हें यह स्पष्ट करते हुए ब्लॉग लिखना चाहिए कि क्या वह भगोड़े कारोबारी विजय माल्या के देश छोड़कर भागने की योजना से अवगत थे। आप नेता दिलीप पांडे ने यहां मीडिया से कहा, “वह (अरुण जेटली) हर मुद्दे पर ब्लॉग लिखने के लिए प्रसिद्ध हैं, उन्हें देश के लोगों से माफी मांगते हुए ब्लॉग लिखना चाहिए और जब तक इस मामले में उनका नाम हट नहीं जाता, उन्हें इस्तीफा देना चाहिए। उन्होंने कहा, “विजय माल्या के मामलों की जांच कर रहे सभी विभाग अरुण जेटली के अधीन आते हैं। इसलिए यह कहना कि केंद्र सरकार माल्या की हरकतों से अवगत नहीं थी, देश को बेवकूफ बनाना होगा।

भाषा के इनपुट के साथ।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 जनसंघ सह-संस्थापक दीनदयाल उपाध्‍याय की हत्‍या का ‘सच’ सामने लाने को हो सकती है सीबीआई जांच
2 पाकिस्‍तानी सैनिकों की बर्बरता: बीएसएफ जवान को घंटों तड़पाया, गला रेता, टांग काटी, आंख निकाली फिर मारी दो गोलियां
3 गांधी की हत्या के बाद गिरफ्तार गोलवलकर का नाम मोहन भागवत के भाषण से गायब, मुस्लिमों को शत्रु बताने वाला बयान भी हटाया