ताज़ा खबर
 

राहुल गांधी ने महात्‍मा गांधी की हत्‍या की तुलना की रोहित वेमुला की आत्‍महत्‍या से की

कांग्रेस उपाध्‍यक्ष ने कहा, ‘गांधीजी की हत्या उन्हीं ताकतों ने की, जिन्होंने उनको वह सच बोलने नहीं दिया जो वह बोलना चाहते थे। यही बात रोहित वेमुला के साथ हुई है।

Author हैदराबाद | January 31, 2016 12:27 PM
रोहित वेमुला मामले में प्रदर्शन कर रहे हैदराबाद यूनिवर्सिटी के छात्रों के साथ मंच साझा करते राहुल गांधी।

कांग्रेस उपाध्‍यक्ष राहुल गांधी एक बार फिर विवादों से घिर गए हैं। उन्‍होंने कहा, ‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ‘उपर से एक विचार थोपकर’ छात्रों की भावना को कुचलने का प्रयास कर रहे हैं। राहुल गांधी ने हैदराबाद सेंट्रल यूनिवर्सिटी में रोहित वेमुला की आत्‍महत्‍या मामले में प्रदर्शन कर रहे छात्रों को संबोधित करते हुए कहा, ‘यहां बिल्कुल वही हुआ है जो महात्‍मा गांधी के साथ हुआ था।’ उन्होंने कहा, ‘गांधीजी की हत्या उन्हीं ताकतों ने की, जिन्होंने उनको वह सच बोलने नहीं दिया जो वह बोलना चाहते थे। यही बात रोहित वेमुला के साथ हुई है। वे लोग नहीं चाहते थे कि वह उस सच को बोले जो उसने संस्थान में देखा था।’ 30 जनवरी को महात्‍मा गांधी की बरसी थी।

Read Also: राहुल गांधी की भूख हड़ताल पर अनुपम खेर बोले- मालदा, जम्‍मू के कैंपों में भी जाएं कांग्रेस उपाध्‍यक्ष

कांग्रेस उपाध्‍यक्ष ने आगे कहा, ‘इस घटना के लिए सिर्फ किसी एक व्यक्ति या समुदाय से नहीं जुड़े होने की बात पर जोर देते हुए राहुल ने कहा, ‘आप एक दिन पाएंगे कि जिन लोगों ने रोहित को कुचला है वे ही स्वतंत्रता और प्रगति के आपके रास्ते को रोकेंगे।’ उन्होंने कहा, ‘इस देश के हर छात्र के लिए मेरा यह संदेश है कि रोहित के साथ जो हुआ वह उसे आप होने देंगे तो एक दिन आपके साथ यही होगा।’

आंदोलनकारी छात्रों के प्रतिएकजुटता प्रकट करते हुए राहुल ने कहा, ‘उन्हें मेरी या किसी को भी ये बताने जरूरत नहीं है कि उन्हें क्या करना है। यही भावना है जिसके लिए मैं आज यहां आया हूं। मैंने आपके साथ दिन बिताया। यह मुद्दा किसी एक छात्र का नहीं है।’ उन्होंने कहा कि आज सिर्फ रोहित वेमुला की जयंती नहीं है, बल्कि गांधीजी की पुण्यतिथि भी है।

Read Also: Viral Video: राहुल गांधी NMIMS में स्‍पीच के दौरान बोल गए Steve Jobs of Microsoft

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App