ताज़ा खबर
 

पीएम का ट्वीट शेयर कर राहुल गांधी ने लिखा ‘असत्याग्रही’, सरकारी दावों पर उठाए सवाल, लोग भी नरेंद्र मोदी को करने लगे ट्रोल

पीएमओ के ट्विटर हैंडल से ट्वीट करते हुए लिखा गया है,''आज रीवा ने वाकई इतिहास रच दिया है। रीवा की पहचान मां नर्मदा के नाम से और सफेद बाघ से रही है।अब इसमें एशिया के सबसे बड़े सोलर पावर प्रोजेक्ट का नाम भी जुड़ गया है।''

Rahul Gandhi PM Modi,राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर ट्वीट करते हुए निशाना साधा है।

मध्य प्रदेश के रीवा में शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 750 MW के सोलर प्रोजेक्ट का उद्घाटन किया। पीएमओ की तरफ से ट्वीट कर दावा किया कि यह एशिया का सबसे बड़ा सोलर प्लांट है। इस पर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने पीएम मोदी को ट्रोल कर दिया और उनपर झूठ बोलने का आरोप लगाया है।

पीएमओ के ट्विटर हैंडल से ट्वीट करते हुए लिखा गया है,”आज रीवा ने वाकई इतिहास रच दिया है। रीवा की पहचान मां नर्मदा के नाम से और सफेद बाघ से रही है।अब इसमें एशिया के सबसे बड़े सोलर पावर प्रोजेक्ट का नाम भी जुड़ गया है।” इस ट्वीट को रिट्वीट करते हुए राहुल गांधी ने पीएम मोदी को ”असत्याग्रही” बताया है।

राहुल गांधी के ट्रोल करने के बाद सोशल मीडिया पर पीएम मोदी को और लोग भी ट्रोल करने लगे हैं। @KilaFateh ने लिखा है दुनिया में सबसे ज्यादा झूठ बोलने का वर्ल्ड रिकॉर्ड #असत्याग्रही_मोदी के नाम है। @Naina17031061 ने लिखा है, आप भी ना, मोई जी बोल रहें हैं तो कुछ सोच के ही बोले होंगे। हो सकता है कोई और एशिया हो? या फ़िर किसी और ग्रह की बात कर रहे हैं? याद रहे मोई जी ने 2014 के बाद इस ब्रह्मांड की रचना की है।

अर्थशास्त्री रूपा सुब्रमण्यम ने भी इस दावे को खारिज किया है। रूपा ने ट्वीट कर लिखा “एशिया का सबसे बड़ा सौर ऊर्जा प्लांट मध्य प्रदेश के रीवा में नहीं है। जैसा की पिछले एक हफ्ते से भारत की बिकाऊ मीडिया रिपोर्ट कर रही है। एशिया का सबसे बड़ा सौर ऊर्जा प्लांट कर्नाटक के पवागडा में है इसका उद्घाटन 2018 में तत्कालीन कांग्रेस सीएम सिद्धारमैया ने किया था। रीवा के 750 मेगावाट के मुक़ाबले कर्नाटक का सोलर पार्क 2050 मेगावाट के साथ दुनिया का सबसे बड़ा प्लांट है।”

बता दें पीएम मोदी ने सोलर प्रोजेक्ट का उद्घाटन कर कहा “मध्य प्रदेश साफ-सुथरी और सस्ती बिजली का हब बन जाएगा। इससे हमारे किसानों, मध्यम और गरीब परिवारों और आदिवासियों को फायदा होगा। हमारी संस्कृति में सूर्य का विशेष महत्व रहा है।” उन्होंने एक संस्कृत के श्लोक से समझाया कि जो उपासना के योग्य सूर्य हैं, वे हमें पवित्र करें। सूर्य देव की इस ऊर्जा को आज पूरा देश महसूस कर रहा है। रीवा में ऐसा ही अहसास हो रहा है।’

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 गलवान घाटी के फिंगर 4 में अभी भी डटी हुई है चीनी सेना, 10 जुलाई की लैटेस्ट सैटेलाइट इमेजरी से हुआ खुलासा
2 Kerala Akshaya Lottery AK-453 Today Results: लॉटरी परिणाम जल्द, पहला इनाम 70 लाख रुपए का
3 6 महीनों में RBI ने रेपो रेट में की135 बेसिस प्वाइंट की कटौती, कोरोना संकट की वजह से देखने पड़ सकते हैं बड़े NPA, गवर्नर ने चेताया
ये पढ़ा क्या?
X