‘वादा था राम राज का, दे दिया गुंडाराज’, छेड़खानी का विरोध करने पर पत्रकार के मर्डर पर राहुल गांधी का तंज

बदमाशों के गोली मारने से गंभीर रूप से घायल गाजियाबाद के पत्रकार विक्रम जोशी की बुधवार तड़के मौत हो गई।

Ghaziabad Journalist Murder
कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी। (PTI)

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार (22 जुलाई, 2020) को गाजियाबाद में एक पत्रकार की हत्या के मामले को लेकर उत्तर प्रदेश की योगी आदित्य नाथ सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने आरोप लगाया कि राज्य में ‘रामराज’ का वादा किया गया था, लेकिन ‘गुंडाराज’ दे दिया गया। केरल के वायनाड से सांसद राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा, ‘अपनी भांजी के साथ छेड़छाड़ का विरोध करने पर पत्रकार विक्रम जोशी की हत्या कर दी गई। शोकग्रस्त परिवार को मेरी सांत्वना।’ राहुल गांधी ने आरोप लगाया, ‘वादा था राम राज का, दे दिया गुंडाराज।’

इधर राहुल गांधी के ट्वीट पर सोशल मीडिया यूजर्स जमकर प्रतिक्रिया दे रहे हैं। ट्विटर यूजर राजीव वाडरा @RaihanVadra_ लिखते हैं, ‘लोग घर-घर मोदी के चक्कर में घर-घर कोरोना कर बैठे।’ शाहनवाज आलम @ShahnawazAslamm लिखते हैं, ‘ये देश अब सिर्फ तुम संभाल सकते हो। देश का पीएम कैसा हो? राहुल गांधी जैसा हो।’ भाजपा नेता जवाहर यादव @jawaharyadavbjp लिखते हैं, ‘ये घटना निंदनीय है पर पंजाब, राजस्थान, छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार में रोज अनेकों इस प्रकार की धटना घटती है क्या आपने राम राज्य की जगह गुंडा राज लाओगे ये घोषणा की थी।’

Rajasthan Government Crisis LIVE Updates

वहीं राहुल गांधी के अलावा बसपा प्रमुख मायावती ने भी कानून व्यवस्था को लेकर यूपी की योगी सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि पूरे उत्तर प्रदेश में हत्या, महिला असुरक्षा सहित जिस तरह से हर प्रकार के गंभीर अपराधों की बाढ़ लगातार जारी है उससे स्पष्ट है कि यूपी में कानून का राज नहीं, बल्कि जंगलराज चल रहा है। उन्होंने कहा कि यूपी में कोरोना वायरस से ज्यादा अपराधियों का क्राइम वायरस हावी है। जनता त्रस्त है। सरकार इस ओर ध्यान दे। हालांकि प्रदेश की सीएम रहीं मायावती इस दौरान किसी घटना का जिक्र नहीं किया है।

उल्लेखनीय है कि बदमाशों के गोली मारने से गंभीर रूप से घायल गाजियाबाद के पत्रकार विक्रम जोशी की बुधवार तड़के मौत हो गई। पत्रकार के परिवार ने यह जानकारी दी। जोशी को कुछ बदमाशों ने सिर में गोली मार दी थी। अधिकारियों ने बताया कि जोशी ने 16 जुलाई को अपनी एक रिश्तेदार के साथ छेड़छाड़ किए जाने के आरोप में पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी। जोशी को विजय नगर इलाके में उनके घर के पास सोमवार रात करीब साढ़े 10 बजे गोली मारी गई थी।

जोशी के परिवार के एक सदस्य ने बताया, ‘हां, वह (विक्रम जोशी) अब जीवित नहीं हैं। जोशी ने अस्पताल में उपचार के दौरान सुबह करीब चार बजे दम तोड़ दिया।’ एक स्थानीय समाचारपत्र के पत्रकार जोशी को एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। पुलिस ने बताया कि इस मामले में अभी तक नौ लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। (एजेंसी इनपुट)

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

Next Story
जम्मू-कश्मीर: घट रहा बाढ़ का पानी, लाखों लोग को अब भी मदद की दरकार
अपडेट