ताज़ा खबर
 

PNB घोटाला: राहुल गांधी ने पीएम मोदी से पूछा- बताएं इतना बड़ा स्कैम क्यों और कैसे हुआ?

राहुल गांधी ने कांग्रेस की संचालन समिति की बैठक के बाद संवाददाताओं से कहा, ‘‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बच्चों को यह बता रहे हैं कि परीक्षाएं कैसे दी जाएं लेकिन वह यह नहीं बता रहे हैं कि यह घोटाला कैसे हुआ।’’

Author नई दिल्ली | Updated: February 18, 2018 10:44 AM
मीडिया से बात करते कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी। (ANI PIC)

नीरव मोदी से जुड़े घोटाले की अनदेखी करने का आरोप प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर लगाते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को नई दिल्ली में कहा कि उन्हें (मोदी को) यह बताना चाहिए कि इतना बड़ा घोटला क्यों और कैसे हुआ और वह इस बारे में क्या कर रहे हैं। कांग्रेस अध्यक्ष ने पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम के हवाले से कहा कि इतना बड़ा घोटाला ‘ऊपर के संरक्षण के बिना’ हो ही नहीं सकता। राहुल ने कांग्रेस की संचालन समिति की बैठक के बाद संवाददाताओं से कहा, ‘‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बच्चों को यह बता रहे हैं कि परीक्षाएं कैसे दी जाएं लेकिन वह यह नहीं बता रहे हैं कि यह घोटाला कैसे हुआ।’’

कांग्रेस अध्यक्ष ने दावा किया, ‘‘इस घोटाले की शुरुआत आठ नवंबर 2016 को तभी हो गई थी जब प्रधानमंत्री ने 500 और एक हजार रुपए के नोट को चलन से बाहर कर दिया और देश का सारा पैसा बैंकिंग प्रणाली में डाल दिया।’’ उन्होंने कहा कि इसी वजह से 22 हजार करोड़ रुपए बैंक से निकाल लिए जाते हैं। उन्होंने पूछा कि जनता के इस पैसे को लेकर हुए इस घोटाले के लिए कौन जिम्मेदार है।

लोकसभा में अमेठी का प्रतिनिधित्व करने वाले राहुल ने कहा, ‘‘इस घोटाले के बारे में जिन लोगों को नहीं बोलना चाहिए वह बोल रहे हैं और प्रधानमंत्री तथा वित्त मंत्री की इस पर बोलने की जिम्मेदारी है लेकिन वह चुप हैं।’’ कांग्रेस नेता ने आरोप लगाया कि इतने बड़े स्तर के घोटाले की प्रधानमंत्री अनदेखी कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि इतना बड़ा घोटाला उच्च स्तर के संरक्षण के बिना किया ही नहीं जा सकता है। यह पूछने पर कि नीरव मोदी के साथ आपके व्यक्तिगत संबंध हैं, तो कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि यह सब इस मामले से ध्यान भटकाने की एक कोशिश है।

वहीं दूसरी तरफ, राहुल गांधी ने शनिवार को पार्टी के पूर्ण अधिवेशन के कार्यक्रम को अंतिम रूप देने के लिए गठित पार्टी की स्टीयरिंग कमेटी की पहली बैठक की अध्यक्षता की। कांग्रेस कार्य समिति (सीडब्ल्यूसी) को भंग करने के बाद इस स्टीयरिंग कमेटी का गठन किया गया था। पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, कांग्रेस संसदीय दल की अध्यक्ष सोनिया गांधी, वरिष्ठ नेता ए के एंटनी, अहमद पटेल, गुलाम नबी आजाद, मल्लिकार्जुन खड़गे सहित कई अन्य नेताओं ने इस बैठक में शिरकत की।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 नीति आयोग की रिपोर्ट- 21 बड़े राज्यों में से 17 राज्यों में जन्म के समय लिंगानुपात में दर्ज हुई गिरावट
2 PNB घोटाला: शिवसेना का तंज- नीरव मोदी को आरबीआई का गर्वनर बना दो
3 PNB घोटाला: बीजेपी का कांग्रेस पर पलटवार, अभिषेक मनु सिंघवी और राहुल गांधी पर लगाए नीरव से कनेक्शन का आरोप
जस्‍ट नाउ
X