ताज़ा खबर
 

RSS में मह‍िलाओं को शॉर्ट्स पहने देखा? राहुल गांधी ने पूछा सवाल तो BJP ने की माफी की मांग, कांग्रेस बोली- सही कहा है

भारतीय जनता पार्टी ने कहा कि राहुल गांधी ने यह बयान देकर गुजरात की महिलाओं को अपमान किया है।

गुजरात में रैली को संबोधित करते कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी। (Photo Source: PTI)

कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने मंगलवार को वडोदरा में छात्रों के एक समूह को संबोधित करते हुए कहा, ‘क्या आपने आरएसएस की शाखाओं में महिलाओं को शॉर्ट्स पहनकर जाते हुए देखा है?’ राहुल गांधी ने कहा कि आरएसएस और भारतीय जनता पार्टी में महिलाओं को तवज्जो नहीं दी जाती है। राहुल गांधी के इस बयान के बाद कांग्रेस और भाजपा में जुबानी जंग छिड़ गई। जहां भारतीय जनता पार्टी राहुल के बयान पर माफी मांगने और बयान वापस लेने की बात कर रही है तो वहीं कांग्रेस ने कहा कि राहुल ने कुछ गलत नहीं कहा है, उनका बयान बिल्कुल सही है।

राहुल गांधी निशाना साधते हुए भाजपा नेता और पूर्व गुजरात सीएम आनंदीबेन पटेल ने कहा, ‘क्या यही कांग्रेस की दृष्टि है कि महिला ने क्या पहना है या नहीं? राहुल ने यह कहकर गुजरात की महिलाओं का अपमान किया है। उन्हें शब्द वापस लेने चाहिए। माफी मांगनी चाहिए। नहीं तो, पूरे राज्य की महिलाएं इकट्ठा होंगी। कांग्रेस बची हुई कुछ सीट भी खो देगी। क्या कांग्रेस की महिलाएं उनसे पूछकर कपड़े पहनती हैं और सभाओं में जाती हैं।’

साथ ही उन्होंने कहा, ‘गुजरात की महिलाएं भली और संस्कारी हैं। वे देश की सेवा का काम करती हैं। गरीबों की सेवा करती हैं और कई संस्थाएं चलाती हैं। वे उसी से अपना नेतृत्व खड़ा करती हैं। अगर ऐसे में कोई ऐसा-वैसा बोल जाता है, तो उसके सामने ताकतवर बनकर सामना करती हैं। कांग्रेस इसके लिए माफी मांगे और राहुल गांधी अपने शब्द वापस लें। कोई महिलाएं ऐसे शब्द सहन नहीं कर सकतीं। सोनिया गांधी या प्रियंका गांधी से पूछिए कि राहुल गांधी ने जो बयान दिया है वह सही है। वे भी उसे गलत बताएंगी।’

वहीं दूसरी ओर कांग्रेस ने राहुल गांधी का समर्थन करते हुए कहा कि उन्होंने यह बयान बिल्कुल सही दिया है। इसमें कुछ भी गलत नहीं है। कांग्रेस प्रवक्ता शक्ति सिंह गोहिल ने कहा, ‘राहुल गांधी ने महिला सशक्तिकरण, समान अधिकार की बात की है। आरएसएस में कोई महिलाएं नहीं हैं। भाजपा को महिला सशक्तिकरण की बात करने का कोई अधिकार नहीं है क्योंकि उनकी सोच महिला विरोधी है। आप कभी नहीं देखेंगे कि किसी आरएसएस नेताओं के साथ महिलाएं मंच साझा कर रही हैं। वे लोग महिलाओं को नीचा दिखाना चाहते हैं। भाजपा राहुल गांधी के बयान को तोड़ मोड़ कर पेश करके लोगों को गुमराह कर रही है।’ गोहिल का यह बयान आनंदीबेन पटेल द्वारा राहुल गांधी पर निशाना साधने के बाद सामने आया था।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 राहुल के बयान पर आनंदीबेन का पलटवार, “महिलाओं के कपड़े देखना ही है कांग्रेस का संस्कार”
2 क्या है कानून की नजर में मानहानि, जानिए आपराधिक मानहानि और सिविल मानहानि में अंतर
3 केरल: CPM के मार्च पर हमले के बाद पुलिस ने मारा BJP दफ्तर पर छापा, बरामद हुए बम और तलवार
ये पढ़ा क्या?
X