ताज़ा खबर
 

मोदी सरकार सिर्फ अमीरों के लिए कर रही है काम: राहुल गांधी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर पिछले लोकसभा चुनाव से पहले जनता से किये गये वादों को पूरा न करने का आरोप लगाते हुए कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने आज कहा कि राजग सरकार सिर्फ अमीरों के लिए काम कर रही है जबकि गरीब और कमजोर तबके के लोग कष्ट झेल रहे हैं ।
Author शेखपुरा (बिहार) | October 7, 2015 17:00 pm
कांग्रेस उापध्यक्ष राहुल गांधी (फाइल फोटो: पीटीआई)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर पिछले लोकसभा चुनाव से पहले जनता से किये गये वादों को पूरा न करने का आरोप लगाते हुए कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने आज कहा कि राजग सरकार सिर्फ अमीरों के लिए काम कर रही है जबकि गरीब और कमजोर तबके के लोग कष्ट झेल रहे हैं ।

राहुल गांधी ने बिहार के शेखपुरा में एक चुनावी रैली में कहा, ‘‘एक साल पहले, नरेन््रद मोदी जी चुनाव जीते और आप सभी उन वादों से परिचित हैं जो उन्होंने किये थे । उन्होंने अनेक वादे किये थे जिनमें कालाधन वापस लाना और प्रत्येक भारतीय के बैंक खाते में 15 लाख रूपये जमा करना, युवाओं को रोजगार और किसानों के उत्पाद के न्यूनतम समर्थन मूल्य में बढोत्तरी शामिल है ।’’

कांग्रेस नेता ने कहा, ‘‘कृपया मुझे बताइये, यहां कोई एक व्यक्ति ऐसा है जिसके खाते में 15 लाख रूपये हैं ….उन्होंने एक भी वादा पूरा नहीं किया ।’’

राहुल गांधी ने आरोप लगाया कि मोदी ने हमेशा केवल अपने कारपोरेट मित्रों को समर्थन किया है ।

उन्होंने दावा किया कि पंजाब, महाराष्ट्र, तेलंगाना और आंध्र प्रदेश जैसे राज्यों में किसान जहां आत्महत्या कर रहे हैं, प्रधानमंत्री परेशान किसानों को मुआवजा देने के मुद्दे पर चुप्पी साधे हुए हैं ।

प्रधानमंत्री की लागतार विदेश यात्राओं पर कटाक्ष करते हुए कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा कि मोदी हमेशा विश्व यात्रा पर जाते हैं लेकिन उन्होंने उन्हें कभी किसी किसान या बेरोजगार युवा के साथ खड़े नहीं देखा ।

बिहार विधानसभा चुनाव में नीतीश कुमार के नेतृत्व में जदयू, राजद और कांग्रेस के महागठबंधन की जीत के प्रति विश्वास व्यक्त करते हुए राहुल गांधी ने कहा, ‘‘हम आपके साथ होंगे, आपके साथ दिखेंगे और आपके लिए लड़ेंगे ।’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.