राफेल मामला: शिवराज बोले- कीचड़ उछालने वालों पर ही गिरा

सर्वोच्च न्यायालय ने राफेल डील मामले में केंद्र सरकार को क्लीनचिट नहीं दी है, बल्कि कहा है कि रक्षा संबंधी सौदे की समीक्षा के उसके अधिकार सीमिति हैं, इसलिए शीर्ष अदालत की निगरानी में जांच की मांगवाली याचिका खारिज की जाती है।

Rafale deal, rafale case, supreme court, राफेल लड़ाकू विमान, सर्वोच्च न्यायालय, National, national news, business news, indian economy, supreme court verict, Shivraj Singh Chauhan, शिवराज सिंह चौहान, India govt, news, latest news, hindi news, news in hindi, jansatta news, Jansatta
मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान।

राफेल लड़ाकू विमान की खरीदी प्रक्रिया की जांच की मांग वाली याचिका सर्वोच्च न्यायालय द्वारा खारिज कर दिए जाने पर मध्यप्रदेश के कार्यवाहक मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर हमला बोलते हुए कहा कि सूरज पर कीचड़ उछालने की कोशिश करने वालों पर ही गिरी है। संवाददाताओं से बातचीत करते हुए कार्यवाहक मुख्यमंत्री चौहान ने शुक्रवार को कहा कि कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी और उनकी मंडली ने राफेल डील को लेकर सूरज पर कीचड़ उछालने की कोशिश की है। उनकी इस हरकत से सूरज का तेज तो कम नहीं हुआ, बल्कि सारी कीचड़ उछालने वाले के ऊपर ही गिरी है।

सर्वोच्च न्यायालय ने राफेल डील मामले में केंद्र सरकार को क्लीनचिट नहीं दी है, बल्कि कहा है कि रक्षा संबंधी सौदे की समीक्षा के उसके अधिकार सीमिति हैं, इसलिए शीर्ष अदालत की निगरानी में जांच की मांगवाली याचिका खारिज की जाती है। इस फैसले को इस तरह प्रचारित किया जा रहा है, जैसे मोदी सरकार को क्लीनचिट मिल गई हो।

चौहान ने आगे कहा कि सर्वोच्च न्यायालय के फैसले से राहुल गांधी के झूठ का खुलासा हो गया है। अच्छा होगा, यदि राहुल गांधी इस झूठ के खुलासे के बाद कुछ नसीहत लें और अपनी बचकानी हरकतों से देश को बदनाम करने से बाज आएं। उन्हें अपनी इस हरकत के लिए पूरे देश से माफी मांगनी चाहिए।

चौहान ने कहा कि सर्वोच्च न्यायालय के प्रति आभारी हैं कि न्यायालय ने राफेल लड़ाकू विमानों के सौदे की सच्चाई को देश के सामने उजागर कर दिया है। न्यायालय का यह फैसला सत्य की जीत है, जो भारत की सेनाओं का मनोबल बढ़ाने की दिशा में मील का पत्थर साबित होगी।

चौहान ने आगे कहा कि राफेल सौदे को लेकर जिन लोगों ने बिना चिदी के सांप बनाया, उन्हें देश की जनता माफ नहीं करेगी। सारी दुनिया में देश की बदनामी कराने वाले और देश की जनता को गुमराह कर सरकार के प्रति अविश्वास पैदा करने वाले राहुल गांधी देश की जनता से माफी मांगें।

चौहान ने आगे कहा कि यह अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण बात है कि एक राष्ट्रीय पार्टी के अध्यक्ष द्वारा कोरे झूठ के आधार पर पहली बार देश को गुमराह करने का इतना बड़ा षड्यंत्र रचा गया। गांधी जवाब दें कि उन्होंने जो झूठ बोला, उसके लिए उनके पास आधार क्या था? यदि राहुल गांधी चाहते हैं कि उन पर देश का थोड़ा बहुत भरोसा बना रहे, तो उन्हें उस सूत्र का नाम उजागर करना चाहिए जो उन्हें देश को बदनाम करने वाली झूठी सूचनाएं दे रहा था।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट
X