पंजाब: NAS की परीक्षा के लिए बनाए गए अभ्यास प्रश्न पत्र में राज्य सरकार का विज्ञापन

प्रश्न संख्या 2 में एक संदर्भ चित्र के रूप में एक विज्ञापन है जिसमें कहा गया है कि पंजाब सरकार ने वृद्धावस्था, विधवाओं और निराश्रित महिलाओं, अनाथ बच्चों और विकलांगों के लिए सामाजिक सुरक्षा पेंशन को दोगुना कर दिया है।

Capt Amarinder Singh
पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह। (सोर्स- एक्सप्रेस अर्काइव)

विद्यालयी शिक्षा के स्तर सुधारने के लिए होने वाले राष्ट्रीय उपलब्धि सर्वेक्षण परीक्षा के लिए तैयार अभ्यास प्रश्न पत्र में पंजाब सरकार का विज्ञापन देखने को मिला है। जानकारी के अनुसार सरकारी प्राथमिक स्कूल के शिक्षकों को कक्षा 5 के छात्रों के लिए अभ्यास प्रश्न पत्र भेजे गए हैं, जिसमें सामाजिक सुरक्षा पेंशन वृद्धि पर राज्य सरकार का एक बड़ा विज्ञापन है, जिसके नीचे विज्ञापन से संबंधित प्रश्न हैं।

जब इस बारे में संबंधित अधिकारी मनमीत ग्रेवाल, ‘पढ़ो पंजाब’ लुधियाना जिले के सहायक परियोजना समन्वयक से सवाल पूछे गए तो उन्होंने कहा कि मोहाली में राज्य के प्रधान कार्यालय से एनएएस अभ्यास पत्र प्राप्त हुए हैं और एक ही प्रश्न पत्र राज्य भर के सभी शिक्षकों को भेजा गया है। उन्होंने कहा कि ये प्रश्न पत्र जिला स्तर पर नहीं बनाए गए हैं, मोहाली में प्रधान कार्यालय में तैयार किए गए हैं। हमने बस उसे शिक्षकों के पास भेज दिया है”।

बताते चलें कि प्रश्न पत्र में, प्रश्न संख्या 2 में एक संदर्भ चित्र के रूप में एक विज्ञापन है जिसमें कहा गया है कि पंजाब सरकार ने वृद्धावस्था, विधवाओं और निराश्रित महिलाओं, अनाथ बच्चों और विकलांगों के लिए सामाजिक सुरक्षा पेंशन को दोगुना कर दिया है। इसके बाद बहुविकल्पीय प्रश्न हैं “उपरोक्त विज्ञापन किस बारे में है?” और “बढ़ी हुई सामाजिक सुरक्षा पेंशन वितरण कब शुरू किया गया था?” शिक्षकों ने कहा कि उन्हें निर्देश दिया गया है कि वे इस प्रश्न पत्र का प्रिंटआउट सोमवार को छात्रों को उपलब्ध करवा दें।

डेमोक्रेटिक टीचर्स फ्रंट (डीटीएफ) के एक वरिष्ठ शिक्षक ने कहा: “चुनाव यहां हैं और अब पंजाब सरकार अपनी योजनाओं को प्रश्न पत्रों के माध्यम से प्रचारित करना चाह रही है… स्कूली बच्चों के प्रश्न पत्र चुनाव प्रचार का माध्यम नहीं बनना चाहिए। बताते चलें कि पंजाब में अगले साल विधानसभा चुनाव होने वाले हैं।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट