ताज़ा खबर
 

पंजाब में कोरोना नियमों में बढ़ी ढील, अब खुल सकेंगे 10वीं से 12वीं तक के स्कूल

मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने मंगलवार को कहा कि राज्य में 10वीं से 12वीं तक स्कूल खोले जा सकते हैं लेकिन वही शिक्षक स्कूल जा सकेंगे जिन्होंने वैक्सीन की दोनों डोज ली है।

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह। फोटो- एक्सप्रेस आर्काइव

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने राज्य में और अधिक छूट देने का फैसला किया है। इसके साथ ही उन्होंने कहा है कि 26 जुलाई से कक्षा 10, 11 और 12 की कक्षाओं के लिए स्कूल भी खोले जा सकेंगे। राज्य में कोविड पॉजिटिविटी घटकर 0.3% होने के बाद पंजाब सरकार ने यह फैसला किया है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि 10 से 12वीं तक स्कूल खोले जा सकते हैं लेकिन केवल वही शिक्षक और कर्मचारी स्कूल जा सकेंगे जो कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज ले चुके हैं। इसके अलावा जिन बच्चों को स्कूल बुलाया जाएगा उनके अभिभावकों से भी मंजूरी लेनी होगी। कैप्टन ने कहा कि कैंब्रिज यूनिवर्सि की मुताबिक आने वाले दिनों में कोरोना के केस घटेंगे। अगर कोरना के मामलों में ऐसे ही गिरावट होती रही तो दो अगस्त से बाकी कक्षाओं को चलाने की भी छूट दी जा सकती है।

कार्यक्रमों में अब शामिल हो सकेंगे ज्यादा लोग
कैप्टन अमरिंदर ने कहा कि वह संगीतकारों और अन्य कलाकारों का सम्मान करते हैं इसलिए अब सांस्कृतिक कार्यक्रमों को भी छूट दी जानी चाहिए। अब किसी भी कार्यक्र बंद जगह पर 150 लोग और खुली जगह में 300 लोग इकट्ठा हो सकेंगे। हालांकि सभी को कोरोना के नियमों का पालन करना होगा। मेहमानों की संख्या स्थल की क्षमता की 50 फीसदी ही होनी चाहिए।

सरकार ने संसद में बताया, ऑक्सीजन की कमी से नहीं हुई एक भी मौत

इससे पहले पंजाब सरकार ने राज्य में बार, सिनेमा हॉल, रेस्तरां, स्पा, स्विमिंग पूल, कोचिंग सेंटर, स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स, जिम, मॉल, म्यूजियम, चिड़ियाघर आदि को छूट दे दी थी। हालांकि यहां भी कुछ नियमों का पालन करना जरूरी है। कैप्टन ने कहा कि अब मूल वायरस की जगह नए म्यूटेट वायरस ने ले ली है। राज्य में ज्यादातर मामले डेल्टा वैरिएंट के मिले हैं। गनीमत है कि राज्य में डेल्टा प्लस वैरियंट का केस नहीं मिला है।

आईसीएमआर की ओर से क्या कहा गया
आईसीएमआर के डीजी बलराम भार्गव के अनुसार अगली कोरोना की लहर उन इलाकों में आ सकती हैं जहाँ के लोगों में एंटीबॉडी का निर्माण नहीं हुआ है। साथ ही भार्गव ने नसीहत देते हुए कहा कि, ‘सामाजिक, राजनीतिक, धार्मिक व सांस्कृतिक कार्यक्रमों में जाने से बचें और पूरी सावधानी का पालन करते हुए वैक्सीन लगवाने के बाद ही एक जगह से दूसरी जगह तक का सफर करें।

Next Stories
1 भाजपा नेता खुशबू सुंदर का ट्विटर अकाउंट हैक, दो दिन पहले ओवैसी को भी बनाया था निशाना
2 रतन टाटा के निवेश वाली कंपनी दे रही कारोबार का मौका, फ्रेंचाइजी लेकर कर सकते हैं मोटी कमाई
3 Redmi ने लॉन्च किया भारत का सबसे सस्ता 5G फोन, कीमत कर देगी हैरान
ये पढ़ा क्या?
X