ताज़ा खबर
 

वकील को लगा अदालत का मूड खराब है, अनुरोध के बाद न्यायाधीश ने सुनवाई टाली

न्यायाधीश आर एन रैना ने वकील के एस सिद्धू के अनुरोध को दर्ज भी किया है। इस माह की शुरूआत में मामला सुनवाई के लिए आया था।

Author चंडीगढ़ | Updated: February 21, 2020 10:06 PM
(प्रतीकात्मक फोटोः Freepik)

पंजाब एवं हरियाणा उच्च न्यायालय में एक अजीब मामला उस वक्त सामने आया जब एक वकील को लगा कि अदालत का मूड खराब है और यह भांपते हुए उसने मामले में स्थगन की मांग की और न्यायाधीश ने वकील के इस अनुरोध को मान लिया। न्यायाधीश आर एन रैना ने वकील के एस सिद्धू के अनुरोध को दर्ज भी किया है।

इस माह की शुरूआत में मामला सुनवाई के लिए आया था। वकील ने देखा कि उसके मामले से पहले के चार मामलों को अदालत ने खारिज कर दिया है जिसके बाद उन्होंने मामले के स्थगन का अनुरोध किया।

न्यायमूर्ति रैना ने चार फरवरी के अपने आदेश में कहा, ‘‘चार जरूरी मामलों को एक के बाद एक खारिज किए जाने के अदालत के फैसलों से वकील ने यह मान लिया कि अदालत का मूड खराब है और अनुरोध किया कि किसी और दिन मामले की सुनवाई की जाए। मैं स्थगन की अनुमति देता हूं लेकिन यह कहने से नहीं चूकूंगा कि वे मामले मंजूरी देने लायक नहीं थे।’’

Next Stories
1 Indian Railways: फ्री में प्लेटफॉर्म टिकट पाने के लिए लगाने होंगे 30 दंड बैठक, इस रेलवे स्टेशन पर मिलेगी सुविधा
2 बुरा फंसे केरल के बिशप! एक और नन ने फ्रैंको मुलक्कल पर लगाए यौन शोषण के आरोप; बोली- कॉन्वेंट में मेरे संग की थी ‘जबरदस्ती’
3 मौलाना ने कहा- देश की जनता को जिससे तकलीफ होगी उस शख्स को स्वीकार नहीं करेंगे, एंकर ने कहा- आप तो सरकार को स्वीकार नहीं कर रहे
ये पढ़ा क्या?
X