ताज़ा खबर
 

जोश में बोल गए पूर्व डिप्‍टी-सीएम सुखबीर बादल- हिंदुस्तान रहे या न रहे, अकाली दल बीजेपी के साथ रहेगा

शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष और पंजाब के पूर्व उपमुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बाद ने कांग्रेस के खिलाफ एक रैली में अपने सहयोगी दल भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की तारीफ में कुछ ऐसा बोल दिया कि वह उनके ही गले की फांस बन गया।

पंजाब के उप-मुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल। (पीटीआई फाइल फोटो)

शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष और पंजाब के पूर्व उपमुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बाद ने कांग्रेस के खिलाफ एक रैली में अपने सहयोगी दल भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की तारीफ में कुछ ऐसा बोल दिया कि वह उनके ही गले की फांस बन गया। सुखबीर सिंह बादल जोश-जोश में कह गए कि हिंदुस्तान रहे या न रहे, अकाली दल बीजेपी के साथ रहेगा। ऐसे में भाजपा के साथ से रहने वाली बात तो ठीक रही, लेकिन हिंदुस्तान न रहे वाली बात विरोधियों को अखर गई। देखते ही देखते मामले ने तूल पकड़ लिया। विरोधियों ने सुखबीर सिंह बादल के इस बयान पर उन्हें चौतरफा घेर लिया। जिसे लेकर अकाली दल और भाजपा की तरफ सफाई भी दी जा रही है कि सुखबीर बादल की ऐसी कोई मंशी नहीं थी, गलती से ऐसा बयान दे दिया। रविवार (18 मार्च) को जालंधर में भाजपा और अकाली दल ने राज्य में कांग्रेस की सरकार के खिलाफ ‘बजाओ ढोल खोलो पोल’ रैली आयोजित की थी। इस मौके पंजाब बीजेपी अध्यक्ष विजय सांपला भी मौदूज थे।

HOT DEALS
  • Sony Xperia XZs G8232 64 GB (Ice Blue)
    ₹ 34999 MRP ₹ 51990 -33%
    ₹3500 Cashback
  • Lenovo Phab 2 Plus 32GB Gunmetal Grey
    ₹ 17999 MRP ₹ 17999 -0%
    ₹0 Cashback

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक विजय सांपला ने सहयोगी अकाली दल को इस मौके पर यह हिदायत दी कि वह बीजेपी के पास जनाधार न होने की बात न सोचे। बीजेपी अध्यक्ष के इतना कहने के बाद अकाली दल प्रमुख सुखबीर सिंह बादल ने अपना भाजपा प्रेम जताते हुए कहा- ”भारतीय जनता पार्टी शिरोमणि अकाली दल का दिल है, उनको भाजपा के साथ ही जीना और मरना है। भाजपा के साथ कोई रहे या न रहे, हिंदुस्तान रहे या ना रहे हम तो आपके साथ ही रहेंगे।”

सुखबीर सिंह बादल के इस बयान पर बवाल कट गया। बीजेपी ने सफाई में कहा कि सुखबीर सिंह बादल गलती से ऐसा बोल गए, उनकी ऐसी कोई मंशा नहीं थी। इसी से मिलती जुलती सफाई शिरोमणि अकाली दल की तरफ से दी गई। अकाली दल ने सुखबीर सिंह बादल के बयान पर विरोधियों के आपत्ति जताने तो फिजूल का बखेड़ा करार दिया। कहा जा रहा कि पूर्वोत्तर में मिली सफलता के बाद पंजाब में भी बीजेपी की हौसले बुलंद हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App