Punjab Congress minister Navjot Singh Sidhu backs Rahul Gandhi for the post of party president - नवजोत सिंह सिद्धू ने राहुल गांधी को बताया 'खानदानी', कहा- वो हार को जीत में बदल रहे हैं - Jansatta
ताज़ा खबर
 

नवजोत सिंह सिद्धू ने राहुल गांधी को बताया ‘खानदानी’, कहा- वो हार को जीत में बदल रहे हैं

सिद्धू ने कहा, 'राहुल गांधी खानदानी शख्सियत हैं, मैं मानता हूं कि वो परिपक्व हो गये हैं और वक्त आ गया है कि इस देश का नेतृत्व उनके जैसे खानदानी आदमी करे।'

पंजाब सरकार में मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू। (Source-PTI)

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता नवजोत सिंह सिद्धू ने राहुल गांधी को कांग्रेस का अध्यक्ष बनाए जाने की जोरदार पैरवी की है। पंजाब सरकार में पर्यटन मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने समाचार एजेंसी एएनआई से कहा कि राहुल गांधी खानदानी शख्सियत हैं, और वक्त आ गया है कि देश का बागडोर उनके हाथों में सौंपा जाए। सिद्धू का ये बयान तब आया है जब एक सप्ताह के अंदर कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव प्रस्तावित है। बता दें कि राहुल गांधी को अध्यक्ष बनाने पर पार्टी में ही विरोध के स्वर उठे हैं। युवा कांग्रेस नेता शहजाद पूनावाला ने कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए हो रही पूरी चुनाव प्रक्रिया पर सवाल उठाया है। नवजोत सिंह सिद्धू ने राहुल गांधी पर पूरा भरोसा जताया है। सिद्धू ने कहा, ‘राहुल गांधी खानदानी शख्सियत हैं, मैं मानता हूं कि वो परिपक्व हो गये हैं और वक्त आ गया है कि इस देश का नेतृत्व उनके जैसे खानदानी आदमी करे।’ सिद्धू ने कहा कि राहुल गांधी हार को जीत में तब्दील करने का काम कर रहे हैं।

बता दें कि बतौर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की ताजपोशी तब विवादों में आ गई, जब महाराष्ट्र कांग्रेस के नेता शहजाद पूनावाला ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष पद के चुनाव में राहुल गांधी को फायदा पहुंचाने के लिए धांधली की जा रही है। शहजाद पूनावाला ने राहुल गांधी को चिट्ठी लिखी और कहा कि उन्हें पहले पार्टी के उपाध्यक्ष पद से इस्तीफा देना चाहिए फिर अध्यक्ष का चुनाव लड़ना चाहिए। शहजाद पूनावाला के मुताबिक कांग्रेस अध्यक्ष पद के चुनाव में जो भी डिलिगेट्स वोट डालते हैं उनकी नियुक्ति प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष करते हैं और इन प्रदेश कांग्रेस अध्यक्षों की नियुक्ति कांग्रेस अध्यक्ष द्वारा की जाती है। शहजाद पूनावाला ने कहा है कि क्या कांग्रेस अध्यक्ष पद सिर्फ “गांधी” नाम वालों के लिए ही बना है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App