ताज़ा खबर
 

कांग्रेस अध्यक्ष के बचाव में उतरे कैप्टन, कहा- ऑपरेशन ब्लूस्टार के समय स्कूल में थे राहुल गांधी

अमरिंदर सिंह ने कहा कि उन दंगों में जो कोई व्यक्तिगत तौर पर शामिल था, वह कानून से बंधा हुआ है। उन्होंने कहा, "कुछ लोगों की करतूतों के लिए समूची पार्टी को जिम्मेदार ठहराना मूर्खतापूर्ण है और यह सुखबीर बादल की राजनीतिक अपरिपक्वता दर्शाता है।"

Author August 26, 2018 9:18 PM
पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह।

पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह रविवार को अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल पर जमकर बरसे। उन्होंने कहा कि 1984 के दंगों के मुद्दे को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर बादल का प्रहार अनुचित और फिजूल है। अमरिंदर ने शिरोमणि अकाली दल (शिअद) प्रमुख को उनके इस बयान को लेकर फटकारा कि 1984 के दंगों के अपराध में राहुल ‘भागीदार’ थे। उन्होंने कहा कि ऑपरेशन ब्लूस्टार के समय राहुल स्कूल में पढ़ते थे। पंजाब के मुख्यमंत्री ने यहां एक बयान में कहा कि उस वाकये के बावत राहुल पर कोई आरोप लगाना अनर्गल है।

उन्होंने कहा कि जिस वाकये के वक्त राहुल गांधी इन सब चीजों से अनजान थे, उसके लिए उन्हें जिम्मेदार ठहराना बिल्कुल मूर्खतापूर्ण है। दरअसल, राहुल का यह कहना कि दंगों में एक पार्टी के रूप में कांग्रेस की कभी संलिप्तता नहीं रही, सिख समुदाय पर नागवार गुजरा है। अमरिंदर ने कहा कि उन दंगों में जो कोई व्यक्तिगत तौर पर शामिल था, वह कानून से बंधा हुआ है। उन्होंने कहा, “कुछ लोगों की करतूतों के लिए समूची पार्टी को जिम्मेदार ठहराना मूर्खतापूर्ण है और यह सुखबीर बादल की राजनीतिक अपरिपक्वता दर्शाता है।”

अमरिंदर सिंह ने कहा कि राहुल गांधी के हालिया बयान को 1984 के दंगों पर उनके पहले के बयानों के संदर्भ में देखा जाना चाहिए, जिसमें उन्होंने खुद कुछ कांग्रेसियों के नाम लिए थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि राहुल गांधी ने 1984 के दंगों सहित सभी तरह की हिंसा की निंदा की थी और दोषियों को कड़ी सजा दिए जाने की बात कही थी। अमरिंदर ने कहा, “यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि सुस्त न्याय प्रणाली के कारण 1984 के दंगों के कई पीड़ितों को अभी भी न्याय नहीं मिला है।” बता दें कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा था कि कांग्रेस 1984 के सिख विरोधी दंगे में शामिल नहीं थी। राहुल गांधी की इस टिप्पणी के लिए अकाली दल ने कांग्रेस पर जोरदार हमला बोला था। अकाली दल ने कहा था कि  सिख दंगे पर कांग्रेस अध्यक्ष की टिप्पणी सिख समुदाय के जख्मों पर नमक छिड़कने जैसा है।  ब्रिटेन के दो दिन के दौरे पर गए राहुल ने वहां लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि यह दुखद घटना थी लेकिन वह इस बात से सहमत नहीं है कि कांग्रेस इसमें ‘‘शामिल’’ थी ।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App