ताज़ा खबर
 

पंजाब सीएम ने ठुकराया पाक का न्‍योता, पाकिस्‍तानी सेना द्वारा भारतीय सैनिकों की हत्‍या से नाराज

भारत की तरफ से अब इस कार्यक्रम में पंजाब सरकार के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू और केन्द्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल और हरदीप सिंह पुरी शामिल होंगे।

कैप्टन अमरिंदर सिंह ने आतंकी घटनाओं और सीमा पर सेना के जवानों की हत्या के विरोध में किया फैसला। (image source-ANI)

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने करतारपुर कोरिडोर के शिलान्यास समारोह के लिए पाकिस्तान का आमंत्रण ठुकरा दिया है। पाकिस्तान के विदेश मंत्री ने कैप्टन अमरिंदर सिंह को आमंत्रित किया था, लेकिन पंजाब के सीएम ने आतंकी घटनाओं और पाकिस्तानी सेना द्वारा भारतीय जवानों की हत्या से नाराज होकर यह आमंत्रण ठुकरा दिया। बता दें कि हाल ही में भारत ने दोनों ही देशों के सिख श्रद्धालुओं के लिए करतारपुर कॉरिडोर खोलने का ऐलान किया था। इसके बाद पाकिस्तान ने भी अपनी तरफ से कॉरिडोर खोलने का ऐलान कर दिया था। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान 28 नवंबर को कॉरिडोर का उद्घाटन करेंगे।

पाकिस्तान ने इस समारोह के लिए भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह और नवजोत सिंह सिद्धू को न्योता भेजा था। सुषमा स्वराज अपनी अन्य प्रतिबद्धताओं और तेलंगाना में चुनाव प्रचार के चलते इस कार्यक्रम में शामिल नहीं हो पाएंगी। अब कैप्टन अमरिंदर सिंह ने भी इस कार्यक्रम में शामिल होने से इंकार कर दिया है। भारत की तरफ से अब इस कार्यक्रम में पंजाब सरकार के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू और केन्द्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल और हरदीप सिंह पुरी शामिल होंगे।

पाकिस्तान विदेश मंत्री के न्योते पर सुषमा स्वराज ने अपने जवाब में लिखा कि न्योता देने के लिए शुक्रिया। पूर्व निर्धारित कार्यक्रमों के चलते मैं कार्यक्रम में शिरकत नहीं कर पाऊंगी। सिखों की भावनाओं को देखते हुए पवित्र गुरुद्वारा करतारपुर साहिब पहुंचने की प्रक्रिया सरल होनी चाहिए। आपके 28 नवंबर को होने वाले कार्यक्रम में हम भारत के दो मंत्रियों हरसिमरत कौर बादल और हरदीप सिंह पुरी को भेजेंगे।

बता दें कि गुरुनानक देव ने करतारपुर साहिब में 18 साल बिताए थे। फिलहाल यह गुरुद्वारा पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में स्थित है। वहीं भारत के गुरदासपुर में स्थित गुरुद्वारे डेरा बाबा में गुरुनानक देव ध्यान किया करते थे। दोनों गुरुद्वारों के बीच में 4 किलोमीटर की दूरी है। लंबे समय से दोनों ही देश के श्रद्धालु करतारपुर कॉरिडोर को खोलने की मांग कर रहे थे। अब जाकर दोनों ही देशों ने करतारपुर कॉरिडोर खोलने का ऐलान किया है। वहीं नवजोत सिंह सिद्धू ने करतारपुर कॉरिडोर खोले जाने पर खुशी जतायी है और कहा कि वह दोबारा पाकिस्तान जाने के लिए बेहद उत्साहित हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 राम मंदिर मुद्दे का क्रेडिट लेने को शिवसेना-भाजपा में होड़, धड़ाधड़ आ रहे नेताओं के बयान
2 रफाल पर बवाल: इस साल मानहानि के 28 मुकदमे दायर कर चुका है रिलायंस ग्रुप
3 Kerala Pournami Lottery RN-367 Today Results: जारी हुआ रिजल्ट, जानें किसने जीता लकी नंबर