ताज़ा खबर
 

‘सितंबर से पहले थम नहीं सकता कोरोना का बढ़ता ग्राफ, तब तक नहीं रख सकते लॉकडाउन’, पंजाब सीएम ने चेताया

मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार ने केंद्र से पहले ही विशेष पैकेज की मांग की है, जिसमें अस्पताल के उन्नयन के लिए 729 करोड़ रुपये और एक उन्नत वायरोलॉजी संस्थान स्थापित करने के लिए 550 करोड़ रुपये की मांग शामिल है।

Author Edited By प्रमोद प्रवीण चंडीगढ़ | Updated: April 15, 2020 8:16 AM
Corona Virus, Covid-19, News in Hindiपंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह। (फाइल फोटो)

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने मंगलवार (14 अप्रैल) को कहा कि कोरोना वायरस के बढ़ते प्रसार पर विशेषज्ञों ने बताया है कि भारत में सितंबर से पहले इसका बढ़ता ग्राफ थमने वाला नहीं है। उन्होंने कहा कि ऐसी स्थिति में हम सभी को इतने लंबे समय तक लॉकडाउन में नहीं रख सकते। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए मीडिया से बात करते हुए अमरिंदर सिंह ने कहा, “3 मई को कोरोना का कर्व ग्राफ समतल नहीं होने जा रहा है। विशेषज्ञों ने मुझे बताया कि यह ग्राफ सितंबर में समतल हो सकेगा। हम तब तक लोगों को लॉकडाउन में नहीं रख सकते लेकिन लॉकडाउन समाप्त होने के बाद भी, हम सावधानी बरतेंगे कि वायरस तेजी से न फैले।”

मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार ने केंद्र से पहले ही विशेष पैकेज की मांग की है, जिसमें अस्पताल के उन्नयन के लिए 729 करोड़ रुपये और एक उन्नत वायरोलॉजी संस्थान स्थापित करने के लिए 550 करोड़ रुपये की मांग शामिल है। अमरिंदर सिंह ने कहा कि उन्होंने केंद्र सरकार से 4,400 करोड़ रुपये लंबित जीएसटी बकाया को भी रिलीज करने की मांग की है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने सकारात्मक संकेत दिए हैं। उन्हें उम्मीद है कि पैकेज जल्द मिलेगा। उन्होंने कहा कि केंद्र सभी राज्य सरकारों की मांगों को ध्यान में रखते हुए फैसला करेगा।

कोरोना से जुड़ी हर लाइव जानकारी के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

पंजाब के वित्त मंत्री मनप्रीत सिंह बादल ने पहले ही इंडियन एक्सप्रेस को बताया था कि राज्य को पेट्रोल और उत्पाद शुल्क, जीएसटी सेवाओं, यात्री कर और स्टांप ड्यूटी पर वैट संग्रह के कारण हर दिन 150 करोड़ रुपये का नुकसान हो रहा है। इसके अलावा पंजाब स्टेट पावर कॉरपोरेशन लिमिटेड के खाते में रोजाना 30 करोड़ रुपये का नुकसान हो रहा है क्योंकि उद्योग-धंधे बंद है, इस वजह से बिजली की ज्यादा मांग नहीं हो पा रही। बावजूद इसके राज्य को निजी थर्मल प्लांटों को निर्धारित लागत का भुगतान करना पड़ा है।
Coronavirus से जुड़ी जानकारी के लिए यहां क्लिक करें: कोरोना वायरस से बचना है तो इन 5 फूड्स से तुरंत कर लें तौबा | जानिये- किसे मास्क लगाने की जरूरत नहीं और किसे लगाना ही चाहिए |इन तरीकों से संक्रमण से बचाएं | क्या गर्मी बढ़ते ही खत्म हो जाएगा कोरोना वायरस?

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Coronavirus in India HIGHLIGHTS: सुरक्षित नहीं है जूम ऐप, गृह मंत्रालय ने अधिकारियों को इसका इस्तेमाल नहीं करने को कहा
2 ‘खुदरा व्यापार में करोड़ों का घाटा’
3 दिल्ली समेत पूरे उत्तर भारत के तापमान में बढ़त
IND vs AUS 3rd ODI
X