ताज़ा खबर
 

OLX से Chinese ड्रोन खरीद सीमापार करते थे ड्रग्स सप्लाई, सेना का नायक समेत दो Smugglers गिरफ्तार

आरोपी ने बताया कि 2019 में OLX से हल्का क्षतिग्रस्त ड्रोन एस्पायर 02 मॉडल को 1.50 लाख रुपए में खरीदा था और मरम्मत कराकर 2.75 लाख रुपए में बेच दिया। फिर पुणे से डीजेआई मैट्रिस 600 ड्रोन को 3.20 लाख रुपए में खरीदा और 5.35 लाख रुपए में बेच दिया।

पंजाब ड्रोनड्रोन के जरिए बार्डर पार कर ड्रग्स की सप्लाई हो रही है, प्रतीकात्मक तस्वीर (फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस)

पंजाब हथियार और ड्रग तस्कर अब ओएलएक्स जैसी वेबसाइटों से इसको खरीदने और बेचने का काम कर रहे हैं। पंजाब पुलिस ने कुछ हथियार तस्करों को गिरफ्तार कर इसका खुलासा किया है। अमृतसर के दो ड्रग तस्करों के साथ गिरफ्तार किए गए सेना के एक नायक राहुल चौहान ने पंजाब पुलिस को बताया कि उसने एक चीन निर्मित ड्रोन ओएलएक्स पर खरीदा और बेचा था।

सेना के एक नायक से पूछताछ में हुआ खुलासा : उससे पूछताछ के दौरान पता चला कि उसने 2019 में OLX से हल्का क्षतिग्रस्त ड्रोन एस्पायर 02 मॉडल को 1.50 लाख रुपए में खरीदा था। कुछ दिन बाद उसकी मरम्मत कराकर उसे उसी वेबसाइट पर 2.75 लाख रुपए में बेच दिया। इसके बाद पुणे से डीजेआई मैट्रिस 600 ड्रोन को 3.20 लाख रुपए में खरीदा और उसे अमृतसर के एक तस्कर को 5.35 लाख रुपए में बेच दिया। इससे उसे मोटा मुनाफा हुआ। पुलिस ने हरियाणा के करनाल से डीजेआई मैट्रिस 600 ड्रोन बरामद किया है।

Hindi News Live Updates 13 January 2020: देश-दुनिया का तमाम बड़ी खबरों को पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पुलिस ने दो ड्रोन जब्त किए हैं: पंजाब पुलिस के अधिकारियों ने कहा है कि उन्होंने दो ड्रोन जब्त किए हैं, जबकि करनाल से एक चीन निर्मित डीजेआई मैट्रीस 600 प्रो (हेक्साकॉप्टर) बरामद किया गया था। एक अन्य ड्रोन (क्वाडकॉप्टर) पंजाब के अमृतसर के मोधे गांव स्थित एक पुराने और बंद सरकारी औषधालय से जब्त किया गया है।

गिरोह के दो सदस्य अभी फरार हैं: राहुल चौहान के अलावा पुलिस ने अमृतसर के धर्मिंदर सिंह और बलकार सिंह को भी गिरफ्तार किया है। उनके गिरोह के दो सदस्य अभी भी फरार हैं। धर्मिंदर सिंह और बलकार सिंह को राहुल चौहान ने ड्रोन बेचे और उन्हें ड्रोन उड़ाना सिखाया भी था। बलकार और धर्मिंदर ने पाकिस्तान से ड्रग्स की खेप लाने के लिए चार से पांच चक्कर लगवाए थे।

दो वॉकी-टॉकी सेट, 6.22 लाख रुपए की भारतीय मुद्रा भी बरामद: डीजीपी पंजाब दिनकर गुप्ता ने कहा, “ड्रोन को राहुल चौहान ने बेचा था और धर्मिंदर और बलकार लिए गए थे। इन ड्रोन को दो से तीन किलोमीटर तक उड़ान भरने के लिए भारत की ओर से लॉन्च किया गया था। गिरोह के दो सदस्य भाग निकले हैं।”  पुलिस ने शनिवार को मीडिया को बताया था कि उन्होंने दो वॉकी-टॉकी सेट, 6.22 लाख रुपए की भारतीय मुद्रा, इंसास राइफल पत्रिका और दो ड्रोन जब्त किए हैं।

Next Stories
1 ‘सरकार नफरत फैलाने के साथ ही लोगों को समुदाय के आधार पर बांट रही है’, CAA, NRC विपक्षी दलों की बैठक में बोली सोनिया गांधी
2 ‘कुत्तों जैसे मारा’ वाली दिलीप घोष की टिप्पणी पर बोले केंद्रीय मंत्री- BJP का इससे लेना-देना नहीं, दादा का बयान गैर-जिम्मेदाराना
3 ‘राष्ट्रव्यापी NRC गैर जरूरी, इसका कोई औचित्य नहीं’, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने विधानसभा में दिया बयान
आज का राशिफल
X