ताज़ा खबर
 

10 सैटलाइट को ले रवाना हुआ PSLV-C49, अब भारत धरती के चप्पे-चप्पे पर रख सकेगा नजर

भारत ने PSLV C49 की सफल लॉन्चिंग की है। इसके साथ भारत के एक रडार उपग्रह और अन्य देशों के 9 उपग्रह रवाना हुए हैं। अमेरिका के चार सैटलाइट भी इसमें सामिल हैं।

isroभारत ने की PSLV C49 की सफल लॉन्चिंग।

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) ने एक बार फिर कमाल कर दिया है। 10 उपग्रहों को लेकर PSLVC-49 की सफल लॉन्चिंग की गई है यह भारत के रडार इमेजिंग सैटललाइट EOS01 और अन्य देशों के 9 उपग्रहों को लेकर रवाना हुआ है। EOS01 सफलतापूर्वक रॉकेट से अलग भी हो गया है। वैज्ञानिकों के मुताबिक यह ऐसा रडार उपग्रह है जिससे भारत धरती के चप्पे-चप्पे पर नजर रख सकेगा और किसी भी मौसम में यह कड़ी निगरानी करने में कामयाब होगा।

ISRO चीफ के सिवन ने कहा, इस महामारी के समये में भी इसरो ने काम किया है और गुणवत्ता के साथ कोई समझौता नहीं किया गया है। यह बहुत खुशी की बात है कि ISRO के वैज्ञानिक अब भी इतने मन से काम कर रहे हैं। यह मिशन भारत और ISRO के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। स्पेस ऐक्टिविटी वर्क फ्रॉम होम से नहीं हो सकती। सभी इंजियनर को लैब में आना होता है।

इस सैटलाइट को लॉन्च करने के लिए श्रीहरिकोटा में दोपहर में ही उल्टी गिनती शुरू हो गई थी। EOS-01 एक अर्थ ऑब्जर्वेशन सैटलाइट है। 10 सैटलाइट में से एक भारत का, लिथुआनिया का एक, लक्जमबर्क के चार औ अमेरिका के चार उपग्रह हैं। भारत अब खुद के मिशन के अलावा बड़े देशों के मिशन को सफल करने में भी सहयोग कर रहा है।

ISRO के एक वैज्ञानिक ने बताया कि इस सैटलाइट के जरिए भारत धरती के चप्पे-चप्प पर नजर रख सकेगा और बादलों के बीच से भी स्पष्ट तरीके से धरती पर झांक सकेगा। इससे ज्यादा स्पष्ट तस्वीरें ली जा सकेंगी। सीमाओं की निगरानी करने में भी मदद मिलेगी। इस साल इसरो की यह पहली लॉन्चिंग है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 मेरे साथ मुंबई पुलिस ने की बर्बरता, स्पाइनल कॉर्ड में आई चोट- बेल याचिका में Republic TV के संपादक का आरोप
2 घर में ‘दलित-आदिवासी’ शख्स का अपमान या शोषण न माना जाएगा SC-ST एक्ट के तहत अपराध- SC
3 अर्णब गोस्वामी की गिरफ्तारी है आपातकाल 2.0! बोले BJP के कपिल मिश्रा- करेंगे सत्याग्रह; तेजिंदर बग्गा भी देंगे साथ
यह पढ़ा क्या?
X