scorecardresearch

Prophet row Case: पैगंबर मामले में भारत की 70 निजी और सरकारी वेबसाइटों पर अंतर्राष्ट्रीय साइबर अटैक

हैकर्स के समूह ने ऑडियो और टेक्स्ट के माध्यम से संदेश भेजा जिसमें कहा गया है कि तुम्हारे लिए तुम्हारा धर्म है और मेरे लिए मेरा धर्म है।

cyber attack| cyber| cyber attack on indian websites|
70 वेबसाइटों पर साइबर अटैक (Express representational image)

बीजेपी की निलंबित नेता नूपुर शर्मा द्वारा पैगंबर मोहम्मद पर की गई विवादित टिप्पणी के बाद अरब देशों ने भी विरोध दर्ज कराया था और भारत के कई राज्यों में विरोध प्रदर्शन हुए थे। वहीं अब पैगंबर मामले को लेकर भारत की 70 निजी और सरकारी वेबसाइटों पर अंतर्राष्ट्रीय साइबर अटैक हुआ है। हैकर्स ने भारत के एक प्रमुख बैंक को भी निशाना बनाने का प्रयास किया था।

हैक्टिविस्ट समूह ड्रैगनफोर्स मलेशिया द्वारा संचालित साइबर अटैक्स में ऑनलाइन प्लेटफार्मों के साथ इज़राइल में भारतीय दूतावास, राष्ट्रीय कृषि विस्तार प्रबंधन संस्थान और भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद के ई-पोर्टल को निशाना बनाया है। हैकर्स ने लगभग 70 वेबसाइटों को हैक कर लिया। यहां तक ​​कि दिल्ली पब्लिक स्कूल, भवन और देश भर के कॉलेजों के अन्य समूहों जैसे प्रमुख शैक्षणिक संस्थानों को भी नहीं बख्शा। अकेले महाराष्ट्र में 50 से ज्यादा वेबसाइटें प्रभावित पाई गईं।

ऑडियो क्लिप और टेक्स्ट के माध्यम से हैकर्स के समूह ने एक संदेश भेजा जिसमें कहा गया कि तुम्हारे लिए तुम्हारा धर्म है और मेरे लिए मेरा धर्म है। टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार भारत सरकार की साइटों के साथ-साथ निजी पोर्टलों को 8 और 12 जून के बीच विरूपित किया गया था। सुरक्षा विशेषज्ञों ने संकेत दिया कि उसी हैक्टिविस्ट समूह द्वारा जिसके 1300 सदस्य हैं, भारत में एक प्रमुख बैंक को भी भंग करने का प्रयास किया गया था।

दुनिया भर के सभी मुस्लिम हैकर्स ने मानवाधिकार संगठनों और एक्टिविस्टों से भारत के खिलाफ अभियान शुरू करने का आह्वान किया। भारतीय अधिकारियों ने रविवार तक इज़राइल में भारतीय दूतावास की वेबसाइट को बहाल करने में कामयाबी हासिल की।

नूपुर शर्मा के बयान पर अरब देशों ने आपत्ति जताते हुए विरोध दर्ज कराया था, जिसके बाद बीजेपी ने नूपुर शर्मा को जांच पूरी होने तक भाजपा की सदस्यता से निलंबित और नवीन जिंदल को पार्टी से 6 साल के लिए निष्काषित किया था। नूपुर के बयान के विरोध में शुक्रवार को देश के कई राज्यों में विरोध प्रदर्शन हुए थे और इस दौरान कई शहरों में हिंसा भड़की थी।

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

X