ताज़ा खबर
 

शैक्षणिक संस्थानों में विकसित उत्पादों को बाजार में उतारा जाएगा: निशंक

निशंक ने स्टूडेंट इंडक्शन प्रोग्राम (दीक्षारंभ) पर कुलपतियों के सम्मेलन में भी हिस्सा लिया। संगठनों ने की एक समान काम का समान वेतन की मांग रखी।

Author Published on: September 12, 2019 3:25 AM
मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’।

देश के उत्कृष्ट संस्थानों जैसे एनआइटी, आइआइटी में शोध को बढ़ावा देकर व्यावसायिक दृष्टि से महत्त्वपूर्ण उत्पादों के विकास और उन्हें बाजार में उतारने पर जोर दिया जाएगा। ये बातें मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने बुधवार को तकनीकी शिक्षा की गुणवत्ता को बेहतर बनाने संबंधी अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद (एआइसीटीई) की पहल के शुभारंभ पर कहीं।

उन्होंने तकनीकी शिक्षा की गुणवत्ता बढ़ाने के लिए कई पहलों को पेश करते हुए कहा- हमारा प्रयास है कि देश के सभी एनआइटी, आइआइटी और अन्य उत्कृष्ट संस्थानों में शोध को बढ़ावा देकर ऐसे उत्पादों का विकास किया जाए जो व्यावसायिक दृष्टि से महत्त्वपूर्ण हों और उन्हें बाजार में उतारा जा सके। निशंक ने कहा कि ऐसे उत्पादों से जहां शैक्षिक संस्थाओं की प्रतिभा निखर कर सामने आएगी, वहीं अर्थव्यवस्था में योगदान के साथ रोजगार के अवसर भी सृजित होंगे।

मानव संसाधन विकास मंत्रालय के तहत एआइसीटीई ने इसी शृंखला में छात्रों और शिक्षकों के लिए राष्ट्रीय नवोन्मेष व स्टार्टअप नीति 2019 तैयार की है। इसके माध्यम से संस्थानों को छात्रों, शिक्षकों और कर्मियों को नवोन्मेष व उद्यमिता से जुड़ी गतिविधियों की ओर प्रेरित करने का मौका मिलेगा। यह ढांचा देशभर के उच्च शैक्षणिक संस्थानों में बौद्धिक संपदा स्वामित्व प्रबंधन, प्रौद्योगिकी लाइसेंसिंग और संस्थागत स्टार्टअप नीति के संदर्भ में एकरूपता लाने में मदद करेगा, जिससे सभी उच्च शैक्षणिक संस्थाओं में नवोन्मेष और स्टार्टअप की एक मजबूत व्यवस्था तैयार की जा सके। निशंक ने स्टूडेंट इंडक्शन प्रोग्राम (दीक्षारंभ) पर कुलपतियों के सम्मेलन में भी हिस्सा लिया। हाल में मंत्रालय ने दीक्षारंभ कार्यक्रम पेश किया था।

इसके तहत विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) के जरिए देश भर के लगभग 900 विश्वविद्यालयों में इस कार्यक्रम का आयोजन करने की बात कही गई है ताकि रैगिंग की घटनाओं पर अंकुश लग सके। सभी विश्वविद्यालयों में नए सत्र के शुरू होने पर दीक्षारंभ समारोह का आयोजन करने का प्रस्ताव है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए गंभीर प्रयास क्यों नहीं: कांग्रेस
2 जानिए नरेंद्र मोदी सरकार-2 के 100 दिनों के दावे और उनकी जमीनी हकीकत
3 तीन लोगों ने नाबालिग लड़की को अगवा कर किया गैंगरेप, आधे किलोमीटर तक सड़क पर निर्वस्त्र भागती रही लड़की