ताज़ा खबर
 

‘प्रियंका गांधी का फोन भी हुआ था हैक’, कांग्रेस का आरोप, बोली- बीजेपी है भारतीय जासूस पार्टी

सुरजेवाला ने कहा कि प्रियंका को लगभग उसी वक्त संदेश प्राप्त हुआ था, जब व्हाट्सएप इस तरह के संदेश उन लोगों को भेज रहा था जिनके मोबाइल फोन कथित तौर पर हैक हुए थे।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी। (फाइल फोटो)

कांग्रेस ने रविवार (03 नवंबर) को प्रेस कॉन्फ्रेन्स कर आरोप लगाया कि पार्टी की वरिष्ठ नेता और यूपी की प्रभारी महासचिव प्रियंका गांधीका भी फोन हैक हुआ था। कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि प्रियंका गांधी को भी व्हाट्सएप से एक संदेश प्राप्त हुआ था, जिसमें उन्हें बताया गया था कि उनके फोन के हैक होने की आशंका है। हालांकि, पार्टी ने यह नहीं बताया कि प्रियंका को यह संदेश कब प्राप्त हुआ था। रणदीप सुरजेवाला ने फेसबुक के मालिकाना हक वाले मैसेजिंग एप (व्हाट्सएप) से एनसीपी नेता प्रफुल्ल पटेल और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को संदेश मिलने के बारे में पूछे जाने पर कहा, ‘‘मैं आपसे कहना चाहता हूं कि प्रियंका गांधी को भी लगभग उसी वक्त व्हाट्सएप से इसी तरह का एक संदेश प्राप्त हुआ था।’’

सुरजेवाला ने कहा कि प्रियंका को लगभग उसी वक्त संदेश प्राप्त हुआ था, जब व्हाट्सएप इस तरह के संदेश उन लोगों को भेज रहा था जिनके मोबाइल फोन कथित तौर पर हैक हुए थे। सुरजेवाला ने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार को इस मामले की जांच करानी चाहिए कि किसने ये हरकत की है और किसके कहने पर की है? कांग्रेस नेता ने मामले में सख्त कार्रवाई की भी मांग की है।

कांग्रेस प्रवक्ता ने बीजेपी पर तीखा हमला बोलते हुए आरोप लगाया कि सत्ताधारी पार्टी विपक्षी नेताओं पर नजर रख रही है और उसकी जानकारियां इकट्ठा कर रही है। उन्होंने कहा कि यह अपराध है। सुरजेवाला ने बीजेपी को भारतीय जासूस पार्टी भी करार दिया। उन्होंने आरोप लगाया कि केंद्र सरकार और एजेंसियों ने इजरायल की एनएसओ का एक सॉफ्टवेयर इस्तेमाल कर नेताओं, एक्टिविस्ट्स, पत्रकारों, शिक्षाविदों के फोन हैक कराए हैं।

प्रियंका गांधी वाड्रा की टीम ने दावा किया कि उन्होंने संदेश को गंभीरता से नहीं लिया और इसे हटा दिया। जब सुरजेवाला ने व्हाट्सएप से अपना मैसेज फॉरवर्ड किया, जो लक्षित उपयोगकर्ताओं द्वारा प्राप्त किया गया था, तो उन्हें याद आया कि उन्हें ऐसा एक संदेश मिला था। बता दें कि
पिछले हफ्ते व्हाट्सएप की मूल कंपनी फेसबुक ने आरोप लगाया कि इजरायल की साइबर सुरक्षा कंपनी एनएसओ ने स्पायवेयर पेगासस फैलाने के लिए व्हाट्सएप सर्वर का इस्तेमाल किया है।
(भाषा इनपुट्स के साथ)

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 तीस हजारी कोर्ट में बवाल पर हाईकोर्ट सख्त, स्पेशल कमिश्नर और डीसीपी के ट्रांसफर के आदेश, न्यायिक जांच भी
2 बीजेपी पर हमलावर संजय राउत की आक्रामक शैली के कायल थे बालासाहेब ठाकरे, 29 साल में ही बना दिया था सामना का संपादक
3 असम एनआरसी को लेकर मीडिया पर बरसे CJI रंजन गोगोई- गलत रिपोर्टिंग से बिगड़े हालात!