ताज़ा खबर
 

प्रियंका गांधी होंगी कांग्रेस की पीएम कैंडिडेट? प्रशांत किशोर ने कही बड़ी बात

राजनीतिक रणनीतिकार और जेडीयू नेता प्रशांत किशोर का कहना है कि प्रियंका गांधी वाड्रा को पीएम नरेंद्र मोदी के खिलाफ उतारा जाना 'जल्दबाजी' होगी।

मां सोनिया गांधी के साथ प्रियंका गांधी। (फोटो सोर्स पीटीआई)

प्रियंका गांधी को कांग्रेस महासचिव बनाना और पूर्वी यूपी की कमान दिया जाना राजनीतिक जानकारों के बीच वर्तमान में चर्चा का सबसे बड़ा मुद्दा है। इस बात की भी अटकलें हैं कि कांग्रेस की ओर से प्रियंका को पीएम कैंडिडेट के तौर पर प्रोजेक्ट किया जा सकता है। राजनीतिक रणनीतिकार और जेडीयू नेता प्रशांत किशोर ने इस मुद्दे पर अपनी राय रखी है। प्रशांत किशोर का कहना है कि प्रियंका गांधी वाड्रा को पीएम नरेंद्र मोदी के खिलाफ उतारा जाना ‘जल्दबाजी’ होगी। पीके के मुताबिक, प्रियंका को अभी कुछ साल का वक्त दिया जाना चाहिए ताकि देश की जनता यह फैसला कर सके कि वह जिम्मेदारियां लेने के लिए तैयार हैं कि नहीं।

प्रशांत किशोर उन मीडिया रिपोर्ट्स पर प्रतिक्रिया दे रहे थे जिनमें प्रियंका को कांग्रेस में लाने की टाइमिंग पर सवाल उठाते हुए उन्हें आम चुनाव में पीएम कैंडिडेट प्रोजेक्ट किए जाने की संभावना जताई गई थी। न्यूज एजेंसी एएनआई से बातचीत में प्रशांत किशोर ने कहा, ‘अगर हम यह सोचते हैं कि कोई एक शख्स, चाहे वो प्रियंका गांधी हों या कोई और, देश की सबसे पुरानी पार्टियों में से एक कांग्रेस में सीमित वक्त में बड़ा बदलाव ला सकता है तो यह सही नहीं है। प्रियंका गांधी को 2 से 3 साल का वक्त दिया जाना चाहिए।’

प्रशांत ने माना कि प्रियंका का राजनीति में आना इंडियन पॉलिटिक्स में बहुप्रतीक्षित था। उनके मुताबिक, लोग भले ही प्रियंका के पार्टी में आने की टाइमिंग, कांग्रेस में उनकी भूमिका और पद को लेकर सवाल उठाएं लेकिन उनके लिए असली खबर यही है कि प्रियंका ने राजनीति में उतरने का फैसला किया है। प्रशांत किशोर ने प्रियंका को उनकी भावी राजनीतिक पारी के लिए शुभकामनाएं भी दीं।

बता दें कि प्रशांत किशोर कांग्रेस और बीजेपी, दोनों के लिए ही चुनावी रणनीतिकार के तौर पर काम कर चुके हैं। क्या प्रियंका और राहुल गांधी की जोड़ी लोकसभा चुनाव में मोदी और शाह की जोड़ी से टक्कर ले जाएगी, इस सवाल के जवाब में किशोर ने कहा, ‘पीएम नरेंद्र मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह लंबे वक्त से राजनीति में रहे हैं और बीजेपी देश की सत्ताधारी पार्टी है। ऐसे में राजनीति में तुरंत एंट्री लेने वाले शख्स की बीजेपी से तुलना करना सही नहीं है।’

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Sikkim State Lottery Today Result: ड्रॉ का रिजल्ट वेबसाइट पर आया, यहां करें चेक
2 प्रियंका गांधी की कांग्रेस में एंट्री से पार्टी में बनेगा एक और पावर सेंटर?
3 भारतीय वायुसेना पर लड़ाकू विमानों की कमी का संकट, पाकिस्तान और चीन के फाइटर जेट्स बढ़ाएंगे चिंता