ताज़ा खबर
 

चीन में कल मोदी और शी जिनपिंग की शिखर वार्ता

वुहान शिखर वार्ता के बाद भारत-चीन सीमा पर विवादित इलाकों को लेकर सैन्य विवाद व गतिरोध की घटनाएं थमी हैं। दोनों देशों के बीच विकासमूलक कई परियोजनाओं को लेकर बातचीत होने लगी है। वुहान वार्ता के बाद एक महीने के अंतराल पर मोदी का यह दूसरा चीन दौरा होगा।

चीन में राष्ट्रपति शी जिनपिंग से मुलाकात करते भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की फाइल फोटो।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) के सदस्य देशों के राष्ट्र प्रमुखों की परिषद की 18वीं बैठक में हिस्सा लेने नौ जून को चीन दौरे पर जाएंगे। चीन के क्विंगदाओ शहर में होने वाले इस एससीओ शिखर सम्मेलन से पहले प्रधानमंत्री मोदी वहां चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के साथ द्विपक्षीय बैठक करेंगे। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार के अनुसार, इस द्विपक्षीय बैठक में भारत और चीन के द्विपक्षीय संबंधों के अलावा पाकिस्तान और कोरियाई प्रायद्वीप के हालात पर बातचीत होगी। दोनों नेताओं के बीच चीन के वुहान शहर में अप्रैल माह में दो दिनों की अनौचारिक शिखर बैठक हुई थी। इस बैठक में दोनों एशियाई शक्तियों के बीच संबंधों को मजबूती देने के बारे में दोनों नेताओं ने विचारों का आदान-प्रदान किया था।

वुहान शिखर वार्ता के बाद भारत-चीन सीमा पर विवादित इलाकों को लेकर सैन्य विवाद व गतिरोध की घटनाएं थमी हैं। दोनों देशों के बीच विकासमूलक कई परियोजनाओं को लेकर बातचीत होने लगी है। वुहान वार्ता के बाद एक महीने के अंतराल पर मोदी का यह दूसरा चीन दौरा होगा। साथ ही, लगातार दूसरी बात मोदी और शी की बैठक चीन की राजधानी बेजिंग से बाहर होगी। चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) की 18वीं बैठक की अध्यक्षता करेंगे। यह शिखर सम्मेलन नौ-दस जून को शानदोंग प्रांत के क्विंगदाओ में होगा। इस शिखर सम्मेलन में कई अन्य मुद्दों के अलावा एससीओ सदस्यों के बीच सहयोग के अवसरों व क्षेत्रीय हालात पर चर्चा की जाएगी।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार के अनुसार, इस बैठक के पहले प्रधानमंत्री मोदी के सम्मान में राष्ट्रपति शी नौ जून की शाम को एक भोज की मेजबानी करेंगे। एससीओ शिखर सम्मेलन का मुख्य दिन 10 जून को होगा। उन्होंने बताया कि मोदी एससीओ के राष्ट्र प्रमुखों की बैठक के सीमित व विस्तारित- दोनों प्रारूपों की बैठकों में हिस्सा लेंगे। उन्होंने कहा कि शिखर सम्मेलन के इतर प्रधानमंत्री की द्विपक्षीय बैठक की भी योजना बनाई गई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App