ताज़ा खबर
 

नरेंद्र मोदीः भ्रष्टाचार को दीमक की तरह देश के कोने-2 में इंजेक्शन लगाकर हटाएंगे

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज 15 दिवस के मौके पर ऐलान किया कि जातिवाद के जहर और सम्प्रदायवाद के जुनून की किसी भी रूप में कोई जगह नहीं होगी और न ही इसे पनपने दिया जायेगा।

Author Updated: August 15, 2015 10:50 AM

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज 15 दिवस के मौके पर ऐलान किया कि जातिवाद के जहर और सम्प्रदायवाद के जुनून की किसी भी रूप में कोई जगह नहीं होगी और न ही इसे पनपने दिया जायेगा।

मोदी ने 69वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर ऐतिहासिक लाल किले की प्राचीर से राष्ट्र के नाम अपने संबोधन में यह ऐलान करते हुए कहा, ‘जातिवाद के जहर और सम्प्रदायवाद के जुनून को विकास के अमृत से मिटाया जायेगा।’

भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई को जारी रखने की बात करते हुए उन्होंने कहा कि 15 महीने की उनकी सरकार पर अब तक एक नए पैसे के भ्रष्टाचार का आरोप नहीं लगा है। उन्होंने कहा, ‘आप लोगों ने जिस काम के लिए मुझे बिठाया है, मैं हर जुल्म सहता रहूंगा, अवरोध सहता रहूंगा लेकिन भ्रष्टाचार मुक्त भारत के सपने को साकार करके रहूगा।’ भ्रष्टाचार को उन्होंने एक दीमक की तरह बताते हुए कहा कि इसे समाप्त करने के लिए कोने कोने में और बार बार इंजेक्शन लगाते रहने होंगे।

उन्होंने कहा, ‘यह देश भ्रष्टाचार से मुक्त हो, इसके लिए उच्च स्तर से प्रयास शुरू करना होगा। भ्रष्टाचार देश में दीमक की तरह लगा हुआ है। लेकिन जब यह बेडरूम में घुस जाए तब पता चलता है। तब हर स्क्वायर मीटर पर इंजेक्शन लगाना होता है, हर महीने और लगातार सालों तक कोने कोने में इंजेक्शन लगाना होता है।

इतने बड़े देश में भ्रष्टाचार मिटाना है तब इसके लिए कोटि कोटि प्रयास करने होंगे।’ कालाधन पर काबू करने के बारे में भी ऐसे इंजेक्शन की जरूरत बताते हुए उन्होंने कहा, ‘इंजेक्शन का साइड इफेक्ट होगा लेकिन यह बीमारी इतनी घातक है कि साइड इफेक्ट के बाद भी यह इंजेक्शन देना होगा।’

कालाधन पर बनाये गए सख्त कानून का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि कालाधन लाने का प्रयास हो रहा है। यह लम्बी प्रक्रिया है लेकिन एक फायदा तो हुआ है कि अब कोई कालाधन बाहर नहीं भेज रहा है।
मोदी ने कहा कि कालाधन अनुपालन व्यवस्था के तहत अब तक लोग 6500 करोड़ रूपये के अघोषित धन की सूचना दे चुके हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 सैन्यकर्मी बन गए देश की सुरक्षा के लिए खतरा?
2 संसद बन गई लड़ाई का मौदान
3 OROP: जंतर-मंतर पहुंचे राहुल को देख पूर्व सैनिकों ने लगाए ‘वापस जाओ के नारे’
ये पढ़ा क्या?
X