ताज़ा खबर
 

मन की बात: PM मोदी ने पिछले साल के जनता कर्फ्यू को किया याद, बोले- कोरोना वॉरियर्स के दिल को छू गया था हमारा ताली-थाली बजाना

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत की महिला खिलाड़ियों को शुभकामनाएं देते हुए कहा, जब सब महिला दिवस मना रहे थे, तब कई महिला खिलाड़ी मेडल्स और रिकॉर्ड अपने नाम कर रही थीं।

Edited By कीर्तिवर्धन मिश्र नई दिल्ली | Updated: March 28, 2021 12:19 PM
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PTI)।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने होली के त्योहार से ठीक पहले देशवासियों को अपने रेडियो प्रोग्राम- मन की बात के जरिए शुभकामनाएं दीं। इस दौरान पीएम ने पिछले साल मार्च में कोरोनावायरस के कहर और समस्या से निपटने के लिए लगाए गए जनता कर्फ्यू और लॉकडाउन का भी जिक्र किया। मोदी ने कहा कि पिछले साल जनता कर्फ्यू पूरी दुनिया के लिए अचरज बन गया था। आने वाली पीढ़ियां इस दौरान लोगों द्वारा दिखाए गए अनुशासन को लेकर गर्व महसूस करेंगी।

पीएम ने कहा कि कोरोना वॉरियर्स के लिए थाली बजाना, ताली बजाना, दिया जलाना उनके दिल को छू गया। यही कारण है के वे लोगों की जान बचाने के लिए जी जान से जूझते रहे। मोदी ने कहा कि पिछले साल तक सवाल था कि कोरोना वैक्सीन कब तक आएगी। हम सबके लिए यह गर्व की बात है कि भारत दुनिया का सबसे बड़ा वैक्सिनेशन प्रोग्राम चला रहा है। पीएम ने कहा कि इन सबके बीच, कोरोना से लड़ाई का मंत्र भी जरुर याद रखिए- ‘दवाई भी – कड़ाई भी।’

महिलाओं की उपलब्धियों की तारीफ: पीएम मोदी ने इसी महीने मनाए गए महिला दिवस को याद करते हुए महिला खिलाड़ियों की उपलब्धियों पर भी बात की। उन्होंने कहा कि जब सब महिला दिवस मना रहे थे, तब कई महिला खिलाड़ी मेडल्स और रिकॉर्ड अपने नाम कर रही थीं। दिल्ली में आयोजित आईएसएसएफ वर्ल्ड कप में भारत शीर्ष पर रहा। ये भारत के महिला और पुरुष निशानेबाजों की वजह से संभव हुआ। पीएम ने महिला क्रिकेटर मिताली राज के अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 10 हजार रन पूरे होने की उपलब्धि पर भी बधाई दी। साथ ही कहा कि आज शिक्षा से लेकर आंत्रप्रेन्योरशिप तक, आर्म्ड फोर्सेज से लेकर साइंस एंड टेक्नोलॉजी तक, हर जगह देश की बेटियां, अपनी, अलग पहचान बना रही हैं।

पर्यटन के लिए लाइट हाउस टूरिज्म को देंगे बढ़ावा: मोदी ने भारत में पर्यटन की संभावनाओं पर बात करते हुए कहा कि मैंने, पर्यटन के विभिन्न पहलुओं पर अनेक बार बात की है, लेकिन, ये लाइट हाउस, टूरिज्म के लिहाज से यूनिक होते हैं। अपनी भव्य संरचनाओं के कारण लाइट हाउसेज हमेशा से लोगों के लिए आकर्षण के केंद्र रहे हैं। उन्होंने बताया कि सरकार पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए भारत में भी 71 लाइट हाउस की पहचान कर चुकी है। इन सभी में उनकी क्षमताओं के मुताबिक म्यूजियम, एम्फी थिएयर, ओपन-एयर थिएटर, कैफेटेरिया, चिल्ड्रन पार्क, इको-फ्रेंडली कॉटेज और लैंडस्केपिंग तैयार किये जाएंगे।

पीएम बोले- सांस्कृति धरोहरों को नई पीढ़ी तक पहुंचाना होगा: प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत के लोग दुनिया के किसी कोने में जाते हैं तो गर्व से कहते हैं कि हम भारतीय हैं। हम अपने योग, आयुर्वेद, दर्शन, न जाने क्या कुछ नहीं है हमारे पास, जिसके लिए हम गर्व करते हैं। अपनी स्थानीय भाषा, बोली, पहनावा, खान-पान उसका भी गर्व करते हैं। पीएम ने संदेश में कहा कि हमें नया तो पाना ही है, लेकिन साथ-साथ पुरातन गंवाना भी नहीं है। हमें बहुत परिश्रम के साथ अपने आस-पास मौजूद अथाह सांस्कृतिक धरोहर का संवर्धन करना है, नई पीढ़ी तक पहुंचाना है।

Next Stories
1 तमिलनाडु चुनाव में पर्दे के पीछे PK बनाम SMS: स्टालिन कैंप से लॉटरी किंग बाहर तो ईपीएस की टीम में पूर्व खुफिया अफसर
2 राहुल गांधी ने इन चार को बना रखा है सिपहसालार, G-23 के विरोध को किया दरकिनार
3 निर्वस्त्र कर BJP विधायक की पिटाईः लेखिका बोलीं- कांग्रेस शासित पंजाब में ये क्या हो रहा? लोग ने बताया- ये ‘खालिस्तानी हमला’
ये पढ़ा क्या?
X