ताज़ा खबर
 

Delhi Violence: हिंसा शुरू होने के तीन दिन बाद बोले PM मोदी- शांति हमारे संस्कारों में, भाईचारा बनाए रखें

Delhi Protest Today News: मोदी ने कहा- मैं अपने दिल्ली के भाइयों-बहनों से अपील करता हूं कि वे भाईचारा बनाए रखें

Author Edited By कीर्तिवर्धन मिश्र नई दिल्ली | Updated: February 26, 2020 8:31 PM
असम दौरे को लेकर पीएम मोदी ने गुरुवार को ट्वीट कर लिखा- मैं असम में दौरे को लेकर उत्सुक हूं। मैं एक जनसभा को संबोधित करने के लिए कोकराझार में रहूंगा। हम बोडो समझौते पर सफलतापूर्वक हस्ताक्षर किए जाने का जश्न मनाएंगे जिससे दशकों की समस्या का अंत होगा। यह शांति और प्रगति के नये युग की शुरूआत का प्रतीक होगा।

Delhi Violence, Delhi Protest Today News: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को दिल्ली में पिछले तीन दिनों से जारी हिंसा पर ट्वीट किया। उन्होंने कहा, “दिल्ली के अलग-अलग हिस्सों की स्थिति पर आज लंबी चर्चा हुई। पुलिस और एजेंसियां जमीन पर शांति बहाल करने में जुटी हैं।”

प्रधानमंत्री ने अगले ट्वीट में कहा, “शांति और सौहार्द हमारे संस्कारों में है। मैं अपने दिल्ली के भाइयों और बहनों से अपील करता हूं कि वे इस मौके पर भाईचारा बनाए रखें। यह जरूरी है कि इस वक्त हर जगह शांति हो और सामान्य स्थिति जल्द से जल्द कायम हो।”


इससे पहले कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने दिल्ली हिंसा को लेकर प्रेस कॉन्फ्रेंस की। उन्होंने गृह मंत्री अमित शाह को हिंसा का जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि उन्हें अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए। सोनिया गांधी बीमार होने के बावजूद बुधवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस करने पहुंची। उन्होंने सवाल उठाया कि दिल्ली की स्थिति को देखते हुए सरकार ने अर्द्धसैनिक बलों की मदद क्यों नहीं ली।

दिल्ली में रविवार को भड़की थी हिंसा
दिल्ली में हिंसा रविवार को भड़की थी, जब जाफराबाद में सीएए के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे लोगों के सामने भाजपा नेता कपिल मिश्रा पहुंच गए थे। उन्होंने कहा था कि दिल्ली पुलिस प्रदर्शनकारियों को हटाए वर्ना कोई भी उन्हें रोक नहीं पाएगा। मिश्रा ने कहा था कि जब तक अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप देश में हैं, तब तक वे कुछ नहीं करेंगे। उसके बाद वे पुलिस की भी नहीं सुनेंगे। मिश्रा के जाने के आधे घंटे बाद ही जाफराबाद और मौजपुरी में हिंसा शुरू हो गई थी। सोमवार और मंगलवार को भी दोनों इलाकों में हालात पुलिस के नियंत्रण से बाहर ही रहे। अब तक हिंसा में 20 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है।
दिल्ली हिंसा से जुड़ी सभी खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें

Next Stories
1 सपा सांसद आजम खान ने पत्नी, बेटे समेत कोर्ट में किया सरेंडर, जेल भेजे गए
2 दिल्ली हिंसा: बीमारी के बावजूद सामने आईं सोनिया गांधी, पूछा- तीन दिन से कहां थे अमित शाह?
3 Delhi Voilence: कोर्टरूम में चलाई गई कपिल मिश्रा की वीडियो क्लिपिंग, दिल्ली पुलिस बोली- हमने देखा नहीं था तो भड़क गए जज
ये पढ़ा क्या?
X