ताज़ा खबर
 

नरेंद्र मोदी ने लॉन्च की सबसे बड़ी योजना, एक शख्स ने तीन दिन में ही लगाया 450 लोगों को चूना

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कुछ दिनों पहले ही नई हेल्‍थकेयर स्‍कीम आयुष्‍मान भारत को लॉन्‍च किया। अब इसके नाम पर ठगी भी शुरू हो गई है। महेश चंद नामक शख्‍स ने गोल्‍डन कार्ड दिलाने के नाम पर नोएडा सेक्‍टर-16 के तकरीबन 450 लोगों के साथ धोखाधड़ी की।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। (फोटोः रॉयटर्स)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 23 सितंबर को नई हेल्‍थकेयर योजना ‘आयुष्‍मान भारत’ लॉन्‍च किया था। योजना के आधिकारिक तौर पर लॉन्‍च होने के कुछ दिनों बाद ही इसकी आड़ में ठगी का धंधा भी शुरू हो गया है। आयुष्‍मान भारत या प्रधानमंत्री जन आरोग्‍य योजना का लाभ दिलाने के नाम पर देश की राजधानी दिल्‍ली से सटे नोएडा में बिहार के एक शख्‍स ने 450 लोगों को चूना लगा दिया। ‘टाइम्‍स ऑफ इंडिया’ के अनुसार, ठगी के शिकार लोग नोएडा के सेक्‍टर-16 स्थित झुग्‍गी-झोपड़ी कॉलोनी के रहने वाले हैं। जानकारी के मुताबिक मूल रूप से बिहार के मुजफ्फरपुर निवासी महेश चंद ने कॉलोनी के लोगों को कथित तौर पर गोल्‍डन कार्ड दिलाने का दावा किया था, जिससे उनका आयुष्‍मान भारत योजना (मोदीकेयर के नाम से लोकप्रिय) के अंतर्गत आने वाले निजी अस्‍पतालों में मुफ्त इलाज हो सके। शिकार लोगों ने बताया कि महेश ने कहा था कि इसके लिए पहले सभी लोगों को पंजीकरण कराना होगा। आरोप है कि फर्जी रजिस्‍ट्रेशन के लिए उसने लोगों को 50-50 रुपये में एक फॉर्म दिया था। महेश ने कथित तौर पर कहा था कि आयुष्‍मान भारत के लिए 25 सितंबर से 2 अक्‍टूबर के बीच ही पंजीकरण का काम होगा। शुरुआत में 300 लोगों ने फॉर्म भरा था।

हरकत में आया बीजेपी युवा मोर्चा: कॉलोनी के कुछ निवासियों ने इसकी सूचना बीजेपी युवा मोर्चा के नेताओं को दी। मोर्चा ने सांसद और केंद्रीय मंत्री महेश शर्मा के प्रतिनिधि संजय बाली को इससे अवगत कराया था। इसके बाद जाकर फर्जीवाड़े का भेद खुला। महेश चंद 26 सितंबर को भी कॉलोनी आया था। कॉलोनी के तकरीबन 150 अन्‍य लोगों ने उससे 50-50 रुपये में फॉर्म खरीदा था। आरोपी फॉर्म जमा ही कर रहा था कि भाजपा युवा मोर्चा के कार्यकर्ता वहां पहुंच गए। उन्‍होंने तत्‍काल इसकी सूचना को पुलिस को दी। इस बीच, महेश चंद ने भागने की कोशिश की लेकिन स्‍थानीय निवासियों ने उसे दबोच लिया। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, आरोपी महेश ने एक ट्रैफिक सिग्‍नल के समीप पुलिस जीप से भी कूद कर भागने की कोशिश की थी, लेकिन पुलिस ने उसे पकड़ लिया। पुलिस ने उसके खिलाफ आईपीसी की धारा 420 (धोखाधड़ी) के तहत एफआईआर दर्ज कर ली है। इस बीच, स्‍वास्‍थ्‍य विभाग ने स्‍पष्‍ट कर दिया है कि आयुष्‍मान भारत योजना के तहत स्‍वास्‍थ्‍य सुविधाएं लेने के लिए गोल्‍डन कार्ड अनिवार्य नहीं है। हालांकि, लाभार्थियों को अपना पंजीकरण कराना होगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App