ताज़ा खबर
 

हर घर जल से लेकर डिजिटल हेल्थ मिशन तक, ये रहीं पीएम मोदी के स्वतंत्रता दिवस संबोधन की 10 बड़ी बातें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सातवीं बार लाल किले पर स्वतंत्रता दिवस के मौके पर तिरंगा फहराया, इसी के साथ वे अटल बिहारी वाजपेयी को पीछे कर सबसे ज्यादा बार झंडारोहण करने वाले गैर-कांग्रेसी पीएम बन गए।

Author Edited By कीर्तिवर्धन मिश्र नई दिल्ली | Updated: August 15, 2020 12:22 PM
Independence Day, PM Narendra Modiपीएम मोदी ने सातवीं बार लाल किले की प्राचीर से देशवासियों को संबोधित किया। (फोटो- PTI)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 74वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर लगातार सातवीं बार देश के नाम संबोधन दिया। पीएम ने लाल किले की प्राचीर से दिए गए अपने भाषण में कई अहम बिंदुओं पर बात की। उन्होंने पड़ोसियों के साथ बेहतर रिश्तों से लेकर वैक्सीन तक पर बयान दिया। साथ ही देश के आर्थिक विकास से लेकर डिजिटाइजेशन पर योजनाओं को भी सामने रखा। बता दें कि 2019 में चुनाव जीतने के बाद दूसरे कार्यकाल में यह पीएम का दूसरा स्वतंत्रता दिवस संबोधन रहा। इस मौके पर पीएम ने सरकार की उपलब्धि गिनाते हुए कहा कि लाल किले से पिछले वर्ष मैंने जल जीवन मिशन का ऐलान किया था। आज इस मिशन के तहत अब हर रोज एक लाख से ज्यादा घरों को पानी के कनेक्शन से जोड़ने में सफलता मिल रही है

पीएम के भाषण की 10 बड़ी बातें:

1. प्रधानमंत्री मोदी ने विस्तारवादी ताकतों पर निशाना साधते हुए कहा, “भारत ने सदियों का विदेशी राज देखा है। हमारे देश, उसकी संस्कृति और परंपरा को खत्म करने की कोशिश की गई। लेकिन उन्होंने हमारे भरोसे और दृढ़ता को कम आंकने की गलती की। हम इतने समय तक मौजूद रहे और अंत में विजेता बनकर सामने आए।” पीएम ने कहा कि विस्तारवाद की सोच ने सिर्फ कुछ देशों को गुलाम बनाकर ही नहीं छोड़ा, बात वही पर खत्म नहीं हुई। भीषण युद्धों और भयानकता के बीच भी भारत ने आजादी की जंग में कमी और नमी नहीं आने दी।

2. पीएम ने कोरोनावायरस के खिलाफ जंग में जुटे कोरोना वॉरियर्स के साथ सैन्य बलों और स्वतंत्रता की रक्षा करने वाले जवानों को सलाम करते हुए कहा कि कोरोना के इस असाधारण समय में, सेवा परमो धर्म: की भावना के साथ, अपने जीवन की परवाह किए बिना हमारे डॉक्टर्स, नर्से, पैरामेडिकल स्टाफ, एंबुलेंस कर्मी, सफाई कर्मचारी, पुलिसकर्मी, सेवाकर्मी, अनेको लोग, चौबीसों घंटे लगातार काम कर रहे हैं।

3. मोदी ने आत्मनिर्भर भारत बनाने की सरकार की कोशिशों पर कहा कि विकास के मामले में देश के कई क्षेत्र भी पीछे रह गए। ऐसे 110 से ज्यादा आकांक्षी जिलों को चुनकर, वहां पर विशेष प्रयास किए जा रहे हैं ताकि वहां के लोगों को बेहतर शिक्षा मिले, बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं मिलें, रोजगार के बेहतर अवसर मिलें। वोकल फॉर लोकल, री-स्किल और अप-स्किल का अभियान, गरीबी की रेखा के नीचे रहने वालों के जीवनस्तर में आत्मनिर्भर अर्थव्यवस्था का संचार करेगा

4. प्रधानमंत्री की ओर से स्वतंत्रता दिवस पर किए गए ऐलानों में नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन सबसे अहम रहा। उन्होंने कहा, “आज से देश में एक और बहुत बड़ा अभियान शुरू होने जा रहा है। ये है नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन। नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन, भारत के हेल्थ सेक्टर में नई क्रांति लेकर आएगा। आपके हर टेस्ट, हर बीमारी, आपको किस डॉक्टर ने कौन सी दवा दी, कब दी, आपकी रिपोर्ट्स क्या थीं, ये सारी जानकारी इसी एक हेल्थ आईडी में समाहित होगी।”

5. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोनावायरस की रोकथाम को लेकर भी ऐलान किए। उन्होंने कहा कि भारत में कोरोना वैक्सीन की टेस्टिंग अलग-अलग चरणों में है। हर भारतीय तक कम से कम समय में वैक्सीन पहुंचाने का खाका तैयार है। कोरोना की वैक्सीन कब तैयार होगी, यह बड़ा सवाल है। देश के हमारे वैज्ञानिक ऋषि-मुनियों की तरह जी-जान से जुटे हुए हैं। वे कड़ी मेहनत कर रहे हैं। भारत में एक-दो नहीं बल्कि तीन-तीन वैक्सीन टेस्टिंग के अलग-अलग चरण में हैं। जब वैज्ञानिकों से हरी झंडी मिलेगी तो बड़े पैमाने पर प्रोडक्शन होगा। इसकी तैयारियां पूरी हैं।

6. पीएम ने चीन और पाकिस्तान का नाम लिए बिना दोनों देशों पर निशाना साधा। पीएम ने कहा कि भारत किसी भी चुनौती से निपटने के लिए तैयार है। उन्होंने लद्दाख का जिक्र करते हुए कहा कि हमारे वीर जवान क्या कर सकते हैं, देश क्या कर सकता है, ये लद्दाख में दुनिया ने देख लिया है। पीएम ने कहा कि एलओसी से लेकर एलएसी तक देश की संप्रभुता पर जिस किसी ने आंख उठाई है, देश की सेना ने उसका उसी भाषा में जवाब दिया है। आतंकवाद, विस्तारवाद का देश डटकर मुकाबला कर रहा है।

7. मोदी ने देशवासियों से मेक इन इंडिया के साथ-साथ मेक फॉर वर्ल्ड के मंत्र पर आगे बढ़ने का आह्वान किया। पीएम ने कहा, “बीते वर्ष भारत में एफडीआई ने अब तक के सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए। बीते वर्ष भारत में एफडीआई 18% बढ़ा। इसलिए कोरोनाकाल में भी दुनिया की बड़ी-बड़ी कंपनियां भारत की ओर रुख ले रही हैं। ये विश्वास ऐसे ही पैदा नहीं हुआ। ऐसे ही दुनिया मोहित नहीं हुई। इसके लिए भारत ने अपनी नीतियों और अपने लोकतंत्र की मजबूती पर काम किए हैं, उसने यह विश्वास जगाया है।”

8. पीएम मोदी ने किसानों के लिए चलाई गई योजनाओं का ब्योरा देते हुए कहा कि एक समय था, जब हमारी कृषि व्यवस्था बहुत पिछड़ी हुई थी। तब सबसे बड़ी चिंता थी कि देशवासियों का पेट कैसे भरे। आज जब हम सिर्फ भारत ही नहीं, दुनिया के कई देशों का पेट भर सकते हैं। कौन सोच सकता था कि कभी देश में गरीबों के जनधन खातों में हजारों-लाखों करोड़ रुपए सीधे ट्रांसफर हो पाएंगे? कौन सोच सकता था कि किसानों की भलाई के लिए APMC एक्ट में इतने बड़े बदलाव हो जाएंगे?” पीएम ने कहा कि देश के किसानों को आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर देने के लिए कुछ दिन पहले ही एक लाख करोड़ रुपए का एग्रीकल्चर इनफ्रास्ट्रक्चर फंड बनाया गया है।

9. प्रधानमंत्री ने देश की सुरक्षा व्यवस्थाओं को मजबूत करने की बात भी कही। उन्होंने कहा कि देश की सुरक्षा में हमारे बॉर्डर और कोस्टल इंफ्रास्ट्रक्चर की भी बहुत बड़ी भूमिका है। हिमालय की चोटियां हों या हिंद महासागर के द्वीप, आज देश में रोड और इंटरनेट कनेक्टिविटी का अभूतपूर्व विस्तार हो रहा है, तेज़ गति से विस्तार हो रहा है। पीएम ने कहा कि अब एनसीसी का विस्तार देश के 173 सीमाई और कोस्टल डिस्ट्रिक्ट्स तक सुनिश्चित किया जाएगा। इस अभियान के तहत करीब 1 लाख नए एनसीसी कैडेट्स को विशेष ट्रेनिंग दी जाएगी। इसमें भी करीब एक तिहाई बेटियों को ये स्पेशल ट्रेनिंग दी जाएगी।

10. जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने का एक साल पूरा होने पर पीएम ने कहा, “ये एक साल जम्मू कश्मीर की एक नई विकास यात्रा का साल है। ये एक साल जम्मू कश्मीर में महिलाओं, दलितों को मिले अधिकारों का साल है। ये जम्मू कश्मीर में शरणार्थियों के गरिमापूर्ण जीवन का भी एक साल है। बीते वर्ष लद्दाख को केंद्र शासित प्रदेश बनाकर, वहां के लोगों की बरसों पुरानी मांग को पूरा किया गया है। हिमालय की ऊंचाइयों में बसा लद्दाख आज विकास की नई ऊंचाइयों को छूने के लिए आगे बढ़ रहा है।”

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 लड़कियों की शादी की उम्र फिर से तय करेगी मोदी सरकार, पीएम का ऐलान- कमेटी बनाई है, रिपोर्ट मिलने पर ऐक्शन
2 Coronavirus in India HIGHLIGHTS: महाराष्ट्र में 12,614 तो पंजाब में 1,033 नए केस, त्रिपुरा में 167 ताजा मामले
3 आयुष्मान भारत: ग़रीबी रेखा से ऊपर वालों को भी लाने का प्लान, 45 करोड़ लोगों को सस्ता बीमा देने की तैयारी
राशिफल
X