UP को चुनावों से पहले पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे की सौगात, PM ने CM को बताया कर्म ‘योगी’; अखिलेश के लिए बोले- मेरे बगल में खड़े होने से डरते थे

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि 19 महीने तक कोविड महामारी के बावजूद रिकॉर्ड तीन साल में यह एक्सप्रेसवे बनकर तैयार हो गया। इतने बड़े प्रोजेक्ट को पीएम मोदी ने आज जनता को समर्पित किया।

Expressway, Purvanchal Expressway, PM Modi, Sultanpur
यूपी के सुल्तानपुर में मंगलवार को पूर्वांचल एक्सप्रेसवे के उद्घाटन के बाद जनसभा को संबोधित करते पीएम नरेंद्र मोदी। (फोटो- एएनआई)

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने सुल्तानपुर में 341 किलोमीटर लंबे पूर्वांचल एक्सप्रेसवे का आज मंगलवार को उद्घाटन किया। वे दोपहर में भारतीय वायुसेना के सी-130 हरक्यूलिस विमान से पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे हवाई पट्टी पर उतरे। राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और अन्य लोगों ने हवाई पट्टी पर प्रधानमंत्री की अगवानी की। इस मौके पर पीएम मोदी ने जनसभा को भी संबोधित किया। कहा कि देश की सुरक्षा उतनी ही जरूरी है जितनी उसकी समृद्धि। कहा कि पूर्वांचल एक्सप्रेसवे अब आपात स्थिति में भारतीय वायु सेना के लिए एक और शक्ति बन गया है। हमारे लड़ाकू विमानों की दहाड़ उन लोगों के लिए भी होगी जिन्होंने दशकों तक देश के रक्षा बुनियादी ढांचे की अनदेखी की।

पीएम मोदी ने सीएम आदित्यनाथ को बताया कर्म ‘योगी’। वे बोले, “योगी जी से पहले की सरकार ने यूपी की जनता के साथ अन्याय किया। उन्होंने जिस तरह विकास में भेदभाव किया, जिस तरह से सिर्फ अपने परिवार का कल्याण किया- यूपी के लोग उन्हें राज्य के विकास के रास्ते से हमेशा के लिए हटा देंगे, आपने 2017 में ऐसा किया।”

उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के लिए कहा कि वे मेरे बगल में खड़े होने से भी डरते थे। कहा, “वे सार्वजनिक रूप से मेरे साथ खड़े होकर अपने वोट बैंक को खराब करने से भी डरते थे। मैं सांसद बनकर आता था, एयरपोर्ट पर मेरा स्वागत करने के बाद वे गायब हो जाते थे. उन्हें शर्म आ रही थी क्योंकि उनके पास काम के रूप में दिखाने के लिए कुछ नहीं था। मुझे दुख है कि तत्कालीन यूपी सरकार ने सहयोग नहीं किया।”

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, “मैं 7-8 साल पहले की स्थिति से हैरान था। मुझे आश्चर्य होता था कि कुछ लोग यूपी को किस बात की सजा दे रहे हैं? इसलिए, 2014 में जब आपने मुझे इस महान राष्ट्र की सेवा करने का अवसर दिया, इसके सांसद के रूप में, प्रधान मंत्री के रूप में तो मैंने इसके विकास के सूक्ष्म विवरणों में जाना शुरू किया। मैंने यूपी के लिए बहुत सारे प्रोजेक्ट शुरू किए हैं। गरीबों को पक्के घर दिए गए, उनके घरों में शौचालय सुनिश्चित किए गए ताकि महिलाओं को खुद को राहत देने के लिए बाहर निकलने की जरूरत न पड़े, हर घर में बिजली हो – ऐसी बहुत सी चीजें यहां के लिए आवश्यक थीं।”

इससे पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि 19 महीने तक कोविड महामारी के बावजूद रिकॉर्ड तीन साल में यह एक्सप्रेसवे बनकर तैयार हो गया। इतने बड़े प्रोजेक्ट को पीएम मोदी आज जनता को समर्पित कर रहे हैं। छह लेन का यह एक्सप्रेसवे राजधानी लखनऊ को गाजीपुर से जोड़ेगा।

इसका निर्माण 22,500 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत से किया गया है। एक्सप्रेस-वे पर लड़ाकू विमानों को आपात स्थिति में उतारने की सुविधा के लिए 3.2 किलोमीटर लंबी हवाई पट्टी का निर्माण किया गया है। हवाई पट्टी स्थल से प्रधानमंत्री सुखोई, मिराज समेत भारतीय वायुसेना के विभिन्न विमानों के ‘एयर शो’ देखे।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट