ताज़ा खबर
 

पीएम नरेंद्र मोदी ने की पंजाब सीएम अमरिंदर सिंह की तारीफ, जवाब में कैप्‍टन ने दिखाया गुस्‍सा

पूर्वोत्तर के चुनाव परिणामों से उत्साह के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की तारीफ कर दी। लेकिन अमरिंदर सिंह ने प्रधानमंत्री की तारीफ को जुमलेबाजी करार दे दिया। हिंदुस्तान टाइम्स की खबर के मुताबिक प्रधानमंत्री की तारीफ ने कैप्टन अमरिंदर सिंह और कांग्रेस दोनों को असहज कर दिया।

पीएम नरेंद्र मोदी और पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह। (फोटो सोर्स- एक्सप्रेस फोटो और पीटीआई)

पूर्वोत्तर के राज्यों के चुनाव परिणामों से उत्साह के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की तारीफ कर दी। लेकिन अमरिंदर सिंह ने प्रधानमंत्री की तारीफ को जुमलेबाजी करार दिया। हिन्दुस्तान टाइम्स की खबर के मुताबिक प्रधानमंत्री की तारीफ ने कैप्टन अमरिंदर सिंह और कांग्रेस दोनों को असहज कर दिया। शनिवार (3 मार्च) को जीत का भाषण देते हुए पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस के मुख्यमंत्री दुर्लभ होते जा रहे हैं। उन्होंने अमरिंदर सिंह की तारीफ करते हुए कहा- ”न तो वह (अमरिंदर सिंह) और न ही वो (कांग्रेस) एक दूसरे को समझते हैं। वह स्वतंत्र फौजी हैं।” पीएम मोदी ने बाद में इसे ट्वीट भी किया। अमरिंदर सिंह ने तुरंत पीएम मोदी के बयान को खारिज कर दिया और इसे 2019 के लोकसभा चुनावों से पहले तुच्छ बयानों के माध्यम से उनके और कांग्रेस आला कमान के बीच दिक्कत पैदा करने का व्यर्थ प्रयास बताया।

मोदी की सूचना का जरिया पूछते हुए अमरिंदर सिंह ने चुटकी ली- ”मुझे याद नहीं है कि उन्होंने कांग्रेस आला कमान के खिलाफ शिकायत की। क्या आलाकमान उनके पास गए और मेरे बारे शिकायत की? न तो उन्हें और न ही कांग्रेस आला कमान को आंतरिक मामलों को लेकर प्रधानमंत्री की सलाह की जरूरत है।” उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री की जुमलेबाजी कांग्रेस नेतृत्व, कार्यकर्ताओं और देश के नागरिकों पर कोई असर नहीं डालेगी। अमरिंदर सिंह ने बाद में इसे ट्वीट भी किया। अमरिंदर सिंह ने कहा कि कांग्रेस चार दिन की चांदनी वाली पार्टी नहीं है और कहा कि राहुल गांधी के नेतृत्व में पार्टी अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव के लिए पूरी तरह से तैयार है।

बता दें कि पिछले वर्ष मार्च में मुख्यमंत्री की शपथ लेने वाले अमरिंदर सिंह की प्रधानमंत्री के साथ खुशमिजाजी कांग्रेस के लिए चिंता खड़ी करती रही है। अमरिंदर सिंह ने सेतलुज-यमुना लिंक नहर के मुद्दे पर केंद्र सरकार की बात का स्वागत करते हुए अपना नरम रुख जाहिर किया था। नवंबर 2016 में अमरिंदर सिंह ने लोकसभा सांसद के पद से तब इस्तीफा दे दिया था जब सुप्रीम कोर्ट ने पानी के मुद्दे पर हरियाणा के पक्ष में फैसला सुनाया था। चुनावी दौड़ के चलते अमरिंदर सिंह ने एलान किया था कि पंजाब अपना पानी किसी भी कीमत पर हरियाणा के साथा साझा नहीं करेगा। बीजेपी के सहयोगी दल शिरोमणि अकाली दल ने मुद्दे पर अमरिंदर सिंह के रुख की आलोचना की थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App