scorecardresearch

राष्ट्रपति चुनावः आजमगढ़-रामपुर में जीत से बीजेपी को फायदा, दो सांसद बढ़ने से मिलेंगे 1400 वोट

राष्ट्रपति चुनाव में यूपी में बीजेपी को बड़ा फायदा हो सकता है क्योंकि उत्तर प्रदेश में अब भाजपा के 66 सांसद हो गए हैं।

BJP| presidential election| up bypolls
भारतीय जनता पार्टी (Photo Source- Representational Image/ PTI)

उत्तर प्रदेश की आजमगढ़ लोकसभा सीट और रामपुर सीट पर हुए उपचुनाव में बीजेपी उम्मीदवारों ने जीत दर्ज की है। रामपुर से बीजेपी उम्मीदवार घनश्याम लोधी चुनाव जीते हैं, तो वहीं आजमगढ़ से निरहुआ ने जीत हासिल की है। उपचुनाव के परिणामों का असर राष्ट्रपति चुनाव (Presidential Election) पर भी पड़ेगा। इसके कारण यूपी में बीजेपी को बड़ा फायदा हो सकता है क्योंकि उत्तर प्रदेश में अब भाजपा के 66 सांसद हो गए हैं।

24 जुलाई 2022 को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का कार्यकाल खत्म हो रहा है। ऐसे में कार्यकाल खत्म होने से पहले राष्ट्रपति का चुनाव होना निश्चित है। राष्ट्रपति चुनाव के लिहाज से बीजेपी के लिए यूपी काफी महत्वपूर्ण है। पूरे देश का मिलाकर राष्ट्रपति चुनाव के लिए कुल 10,98,882 वोट हैं। यूपी में राज्य के एक विधायक की वोट का वेटेज 208 है, जबकि राज्य में कुल 403 विधानसभा सीटें हैं।

ऐसे में उत्तर प्रदेश विधानसभा के कुल वोट का वेटेज 83,824 होता है, जो कि किसी भी दूसरे राज्य की तुलना में काफी ज्यादा है। वहीं सांसद के वोट का कुल वेटेज 56,640 होता है। यानि यूपी में राष्ट्रपति चुनाव के लिए विधानसभा और सांसदों का कुल वोट का वेटेज 1,40,464 होता है।

लोकसभा का गणित: उत्तर प्रदेश में कुल 80 लोकसभा और 31 राज्यसभा सांसद हैं। एक सांसद के वोट का वेटेज 700 है। यहां भारतीय जनता पार्टी के अब 66 सांसद हैं जबकि एनडीए गठबंधन की पार्टी अपना दल के दो सांसद हैं। ऐसे में एनडीए के लोकसभा सांसदों के वोट का वेटेज 44,800 से 1400 वेटेज बढ़कर 46,200 हो जाता है। इसके अलावा बसपा के दस सांसद हैं, जिनके वोट का वेटेज 7000 है। वहीं उपचुनाव के बाद सपा के अब केवल 3 सांसद हैं, जिससे उनके वोट का वेटेज 2100 होता है। वहीं कांग्रेस के एक मात्र सांसद के वोट का वेटेज 700 होता है।

राज्यसभा का गणित: वहीं, दूसरी ओर राज्यसभा में यूपी के 31 सांसद हैं। यहां बीजेपी के 22, सपा के 5 और बसपा के 3 सांसद हैं, जबकि एक सपा सर्मथक निर्दलीय सांसद कपिल सिब्बल हैं। यूपी में राज्यसभा के बीजेपी सांसदों के वोट का वेटेज 15400, सपा सांसदों के वोट का वेटेज 3500 और बसपा सांसदों के वोट का वेटेज 2100 होता है। वहीं कपिल सिब्बल के वोट के कारण सपा के वोट का वेटेज 700 बढ़ जाता है।

एनडीए गठबंधन का हिसाब: राज्य में एक विधायक के वोट का वेटेज 208 है। यूपी में 403 में से बीजेपी गठबंधन (एनडीए) के 273 विधायक हैं। इसमें बीजेपी के 255 विधायकों का वेटेज 53,040, अपना दल (सोनेलाल) के 12 विधायक का वोट वेटेज 3,060 होता है। गठबंधन के एक अन्य दल निषाद पार्टी के 6 विधायकों का कुल वेटेज 1,248 है। ऐसे में एनडीए गठबंधन के विधायकों का वोट वेटेज 57,348 हो जाता है।

राष्ट्रपति चुनाव की तारीख: राष्ट्रपति चुनाव के लिए नामांकन 29 जून, चुनाव 18 जुलाई 2022 और परिणाम 21 जुलाई को घोषित किया जाएगा। राष्ट्रपति पद के चुनाव के लिए पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा विपक्ष के साझा उम्मीदवार हैं जिनका मुकाबला राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन की उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू से है।

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट

X