विवादों के बीच एफटीआइआइ पुणे को मिला नया निदेशक

अभिनेता गजेंद्र चौहान को भारतीय फिल्म व टेलीविजन संस्थान (एफटीआइआइ) का अध्यक्ष बनाए जाने के विरोध में जारी छात्रों की हड़ताल के बाबत संस्थान के नए निदेशक प्रशांत पठराबे...

Author July 18, 2015 10:36 AM

अभिनेता गजेंद्र चौहान को भारतीय फिल्म व टेलीविजन संस्थान (एफटीआइआइ) का अध्यक्ष बनाए जाने के विरोध में जारी छात्रों की हड़ताल के बाबत संस्थान के नए निदेशक प्रशांत पठराबे ने शुक्रवार को कहा कि वे मौजूदा गतिरोध को सुलझाने के लिए सभी संबंधित पक्षों से बात करेंगे और उन्हें उम्मीद है कि नतीजा सकारात्मक होगा।

संस्थान में कायम अशांति के बारे में पूछे जाने पर प्रशांत ने यहां पत्रकारों से कहा, मैं पहले स्थिति का अध्ययन करूंगा और सभी संबंधित पक्षों से बात करूंगा। स्थिति अच्छी नहीं है लेकिन हमें सकारात्मक परिणाम आने की उम्मीद है’।

सूचना प्रसारण मंत्रालय ने पत्र सूचना कार्यालय (पीआइबी) की पुणे इकाई के प्रमुख प्रशांत को एफटीआइआइ के निदेशक पद का अतिरिक्त प्रभार सौंपा है क्योंकि मौजूदा निदेशक डीजे नारायण का कार्यकाल इस हफ्ते पूरा हो रहा है। उन्होंने कहा, ‘इस मुद्दे को सुलझाने के लिए मैं अपना सर्वश्रेष्ठ प्रयास करूंगा’।

पुणे स्थित राष्ट्रीय फिल्म संग्रहालय (एनएफएआइ) के निदेशक के तौर पर अपने पहले के कार्यकाल का जिक्र करते हुए प्रशांत ने कहा, ‘मैं पहले एफटीआइआइ से बाहर से मुखातिब हुआ था। पहले मुझे स्थिति का अध्ययन करने दीजिए’।

पिछले 36 दिनों से लगातार कक्षा का बहिष्कार कर रहे छात्रों को दिए गए नोटिस के बारे में निवर्तमान निदेशक नारायण ने कहा, ‘यह एक वैधानिक चेतावनी थी। कार्रवाई के लिए कोई समयसीमा नहीं है’।

बुधवार को प्रदर्शनकारी छात्रों को अल्टीमेटम देकर कहा गया था कि वे प्रदर्शन खत्म करें या संस्थान से निकाले जाने की कार्रवाई का सामना करें। बहरहाल, उन्होंने कहा कि छात्रों को चेतावनी गंभीरता से लेनी चाहिए और अपनी कक्षा में वापस जाना चाहिए। ऋषि कपूर और सलमान खान जैसी बालीवुड हस्तियां छात्रों के समर्थन में आ गई हैं।

Next Stories
1 व्यापमं घोटाला: सीबीआइ ने पांच नए मामले दर्ज किए, पत्रकार अक्षय सिंह के मौत की जांच शुरु
2 श्रीनगर में लहराया लश्कर-ए-तैयबा और आइएस का झंडा
3 बुलंदशहर में बलात्कार पीड़िता की हत्या
X