त्रिपुराः PK की टीम को बनाया बंधक, अभिषेक ने ट्वीट कर कहा-बंगाल की जीत से डरी बीजेपी

ममता बनर्जी के भतीजे, सांसद अभिषेक बनर्जी ने ट्वीट बीजेपी पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि टीएमसी के लिए त्रिपुरा गई टीम को बीजेपी सरकार ने बंधक बना लिया है। बीजेपी बंगाल में टीएमसी की जीत से बौखला गई है।

Prashant Kishor, IPAC team detained, Tripura, Trinamool Congress, Abhishek banerjee
त्रिपुरा गई IPAC की टीम को बनाया बंधक। फोटो- ट्विटर @uppolitivcs22

चुनाव रणनीतिकार प्रशांत किशोर की कंपनी IPAC की एक टीम को त्रिपुरा पुलिस ने होटल में बंधक बना लिया। हालांकि, पुलिस का कहना है कि बंधक बनाने की बात गलत है। टीम से केवल पूछताछ की जा रही है। उधर, ममता बनर्जी के भतीजे, सांसद अभिषेक बनर्जी ने ट्वीट बीजेपी पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि टीएमसी के लिए त्रिपुरा गई टीम को बीजेपी सरकार ने बंधक बना लिया है। बीजेपी बंगाल में टीएमसी की जीत से बौखला गई है।

त्रिपुरा पुलिस का कहना है कि नियमित जांच के तहत अगरतला शहर स्थित होटल में 22 सदस्यीय आई-पैक टीम के सदस्यों से पूछताछ की जा रही है। पुलिस का कहना है कि लगभग 22 बाहरी लोग विभिन्न स्थानों पर घूम रहे थे। शहर में कोविड प्रतिबंध लागू है, इसलिए हम उनके शहर में आने और ठहरने के कारणों की पुष्टि करने के लिए पूछताछ कर रहे हैं। उन सभी की सोमवार को कोविड की जांच की गई, रिपोर्ट की प्रतीक्षा की जा रही है।

आई-पैक की यह टीम राज्य की राजनीतिक स्थिति और तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के लिये संभावित समर्थन आधार का आकलन करने गई थी। टीएमसी की त्रिपुरा इकाई ने इसे लोकतंत्र पर हमला करार दिया है। पार्टी ने कहा कि पुलिस ने उन्हें उनके होटल में बंद कर दिया था। यह त्रिपुरा की संस्कृति नहीं है। आई-पैक की टीम रविवार रात से एक होटल में नजरबंद है। हालांकि, पुलिस इसे नियमित जांच का हिस्सा बता रही है।

TRIPURA, IPAC TEAM, PK
त्रिपुरा गई IPAC की टीम को बनाया बंधक। फोटोःANI)

उधर, ममता बनर्जी के भतीजे, सांसद अभिषेक बनर्जी ने ट्वीट कर कहा कि बंगाल चुनाव में टीएमसी को मिले जबरदस्त समर्थन से भाजपा घबरा गई है। त्रिपुरा में भाजपा के नेतृत्व वाली सरकार के कुशासन के कारण वहां के लोग त्रस्त हैं। इससे डरेंगे नहीं।

22 सदस्यों वाली आई-पैक टीम एक सप्ताह पहले राज्य में पहुंची थी और ‘ग्राउंड जीरो’ पर सर्वेक्षण करने के लिए कई स्थानों का दौरा भी किया। टीम 2023 में अगले विधानसभा चुनाव में राजनीतिक स्थिति और टीएमसी की संभावना का आकलन कर रही है। टीम देख रही है कि बंगाल की सीएम ममता बनर्जी के लिए यहां हालात कितने मुफीद हैं। हालांकि, मामले की सूचना प्रशांत किशोर के साथ ममता बनर्जी तक पहुंच गई लेकिन दोनों की तरफ से अभी तक कोई प्रतिक्रिया सामने नहीं आई है।

त्रिपुरा के एसपी मानिक दास का कहना है कि नियमित जांच के तहत अगरतला शहर स्थित होटल में टीम से पूछताछ की जा रही है। उनका कहना है कि लगभग 22 बाहरी लोग विभिन्न स्थानों पर घूम रहे थे। शहर में कोविड प्रतिबंध लागू है। इसी वजह से उनसे पूछताछ की जा रही है।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट