ताज़ा खबर
 

मैं ‘डिप्लोमेसी’ करता नहीं- PK ठोंकने लगे दावा, अंजना ने कहा- वो तो Club House Chat में लीक हो गया था

आजतक पर बातचीत के दौरान जब प्रशांत किशोर ने कहा, मैं डिप्लोमेसी नहीं करता तो ऐंकर ने टोकते हुए कह दिया, वो तो चैट में लीक हो गया है।

aajtak, prashant kishore, bengal election, pm modi, mamata banerjeeचुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर। फोटोः,Twitter/Prashant Kishore)

पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी के लिए चुनावी रणनीति तैयार करने वाले प्रशांत किशोर के चैट लीक के बाद भाजपा इसे भुनाने में कोई कसर नहीं छोड़ रही है। इस चैट में प्रशांत किशोर कथित तौर पर दावा कर रहे थे कि बंगाल में भाजपा सरकार बनाने वाली है। हालांकि अब वह कह रहे हैं कि भाजपा 100 सीट नहीं ले पाएगी। इस मामले में उन्होंने आजतक चैनल से बात भी की। प्रशांत किशोर ने कहा कि चैट का एक हिस्सा वायरल किया जा रहा है जबकि पूरी बात कुछ और थी। इसलिए पूरा चैट लीक करना चाहिए। इसी बातचीत में जब पीके ने कहा कि वह डिप्लोमेसी नहीं करते तो ऐंकर ने टोक दिया, वह तो चैट में लीक हो गया।

प्रशांत किशोर ने आजतक चैनल पर भी स्वीकार किया कि पश्चिम बंगाल में दलितों का बड़ा हिस्सा बीजेपी को वोट कर रहा है। पीके ने कहा, 40 प्रतिशत वोट अगर बीजेपी को आ रहा है तो भी वे 100 सीट नहीं जीत पाएंगे क्योंकि टीएमसी को 45 से 46 फीसदी वोट मिलेगा। लोकसभा चुनाव का उदाहरण देते हुए उन्होंने कहा कि लोकसभा के चुनाव में भी भाजपा को 41 फीसदी वोट मिले थे लेकिन वे 18 सीट ही जीत पाए। इस हिसाब से भाजपा121 विधानसभा सीटों पर आगे थी और तृणमूल 164 सीटों पर।

आगे उन्होंने कहा, भाजपा को जीतने के लिए 150 के पार सीटों की जरूरत है। जिन वजहों से भाजपा के वोट हैं, उनसे मैं इनकार नहीं कर रहा हूं लेकिन भाजपा को वोट बढ़ता हुआ नजर नहीं आता है।

मुस्लिम तुष्टीकरण को स्वीकारने की बात पर जब सवाल पूछा गया तो पीके ने कहा, सवाल यह किया गया कि भाजपा ध्रुवीकरण क्यों कर पा रहे हैं? सोशल मीडिया की वजह से या बदलाव की वजह से? इसमें मीडिया का भी योगदान है। मीडिया की बात करने पर अंजना ओम कश्यप ने कहा, एक मीडिया को हिस्सा वो भी तो है जो बंगाल में रहते हुए सीएम के खिलाफ नहीं लिख सकता।

अंजना ने सवाल पूछा, ‘आप सबको पॉलिटिकल डिप्लोमेसी सिखा रहे हैं तो मुझे डर लग रहा है कि ऐसा कुछ बोलकर यहां से भी न निकल जाएं।’ इसपर प्रशांत किशोर ने कहा, जितने पत्रकार हमको जानते हैं वे कहते हैं कि मैं डिप्लोमेसी नहीं करता। इसपर अंजना ओम कश्यप ने कहा, वो तो चैट में लीक हो गया। पीके ने कहा, मैं वही बात फिर रिपीट कर सकता हूं। मैं कहता हूं कि मोदी जी पॉपुलर हैं, ध्रुवीकरण का भाजपा को फायदा मिला, हिंदी भाषियों में भाजपा के प्रति अट्रैक्शन है। इसमें लीक जैसी कोई बात नहीं है। इसे कमरे में घुसकर सुनने की जरूरत नहीं है।

Next Stories
1 पी चिदंबरम जब लेने लगे थे अंग्रेजी में लालू का ‘इंटरव्यू’, RJD नेता ने दिया था जवाब- टीचिंग, क्या पूछ रहे हैं?
2 West Bengal Assembly Elections 2021 में BJP और TMC में दलितों को लुभाने की होड़
3 MP: हथकड़ी में आगे COVID-19 संक्रमित चोरी का आरोपी, पीछे PPE किट में पुलिस; पैदल ही ले पहुंची जेल
यह पढ़ा क्या?
X