ताज़ा खबर
 

कृष्ण पर ट्वीट कर फंसे प्रशांत भूषण, सोशल मीडिया यूजर्स ने कहा- हिम्मत है तो मोहम्मद साहब पर एक शब्द बोलकर दिखाओ

ट्वीटर पर अक्षिता गुप्ता नाम की एक यूजर ने कमेंट किया, ' पापी कंस ने भी प्रशांत भूषण से ज्यादा भगवान कृष्ण का सम्मान किया।'

वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण (File Photo)

सुप्रीम कोर्ट के वकील प्रशांत भूषण ने भगवान कृष्ण पर अपने विवादित ट्वीट के लिए सफाई दी है। प्रशांत भूषण ने कहा है कि उनके ट्वीट को गलत अर्थ में पेश किया गया, और वे सिर्फ ये कहना चाहते थे कि रोमियो ब्रिगेड के तर्क के मुताबिक भगवान कृष्ण भी छेड़छाड़ करने वाले प्रतीत होंगे। प्रशांत भूषण ने ट्वीट किया, ‘ हम लोग ये सुनते हुए बड़े हुए हैं कि कृष्ण अपने युवावस्था में गोपियों को छेड़ते थे, रोमियो स्क्वैड का तर्क तो इसको भी जुर्म बना देगा, मेरा मतलब किसी की भावनाओं को चोट पहुंचाना नहीं था।’ इससे पहले प्रशांत भूषण ने ट्वीट किया था कि, रोमियो ने तो केवल एक से प्यार किया था जबकि भगवान कृष्ण तो लड़कियों को छेड़ने के लिए मशहूर थे। क्या यूपी के सीएम आदित्य नाथ के अंदर हिम्मत है कि वो एंटी रोमियो स्क्वैड को एंटी कृष्ण स्क्वैड कहेंगे?’ लेकिन देश के वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण को अपने इस ट्वीट के लिए सोशल मीडिया पर काफी ट्रोल होना पड़ा। पत्रकार अभिजीत मजूमदार ने प्रशांत भूषण के ट्वीट को रिट्वीट कर लिखा, ‘जो नियम कमलेश तिवारी पर लागू होता था, जो कि मोहम्मद साहब की टिप्पणी करने के लिए जेल भेज दिया गया था, क्या वही नियम प्रशांत भूषण पर लागू नहीं होता है?

ट्वीटर पर अक्षिता गुप्ता नाम की एक यूजर ने कमेंट किया, ‘ पापी कंस ने भी प्रशांत भूषण से ज्यादा भगवान कृष्ण का सम्मान किया।’ एक यूजर ने लिखा है, प्रशांत भूषण पहले केजरीवाल के साथ थे, लेकिन केजरीवाल ने तीन तलाक कहकर उसका साथ छोड़ दिया अब प्रशांत भूषण जिहादी की तरह बात कर रहा है।’ सुनील केडिया नाम के एक यूजर ने ट्विटर से प्रशांत भूषण का ट्विटर अकाउंट रद्द करने की मांग की है। उर्मिला सिंह नाम की एक महिला यूजर ने लिखा,’भूषण जी क्या आपका दिमाग खराब हो गया है, आप भगवान कृष्ण की तुलना किसके साथ कर रहे हैं, मैं आपको चुनौती देती हूं कि आप मोहम्मद साहब के खिलाफ एक शब्द बोलकर दिखा दें।’

दिल्ली बीजेपी के नेता तेजिंदर पाल सिंह बग्गा ने धार्मिक भावनाएं आहत करने के लिए प्रशांत भूषण के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है। बता दें कि यूपी के सीएम योगी आदित्य नाथ ने राज्य के मनचलों से निपटने के लिए एंटी रोमियो दल बनाया है, जो ऐसे लड़कों के खिलाफ कार्रवाई करती है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App