ताज़ा खबर
 

प्रशांत भूषण ने हिटलर की तस्वीर शेयर कर आरएसएस पर साधा निशाना, लोगों ने कर दिया ट्रोल

प्रशांत भूषण ने जो तस्वीर साझा की है उसमें बीजेपी के कुछ नेता शपथ ले रहे हैं। एक तरफ बीजेपी नेताओं की तस्वीर है तो दूसरी तरफ हिटलर की शपथ लेते हुए तस्वीर है।

Prashnat Bhushan court of contempt supreme courtशांत भूषण कोर्ट की अवमानना मामले में केस का सामना कर रहे हैं। (फाइल फोटो)

सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण ने आरएसएस पर निशाना साधते हुए एक फोटो शेयर की है जिसके बाद सोशल मीडिया यूजर्स ने उन्हें ट्रोल कर दिया। हिटलर की एक तस्वीर साझा करते हुए लिखा है, यह पार्टी (बीजेपी), आरएसएस और उसके नेता हमेशा से हिटलर और उसके तरीकों के कायल रहे हैं। ये लोग यह भूल गए है कि उसने दुनिया के साथ क्या किया था और कैसे उसकी जिंदगी और पार्टी दोनों खत्म हुई।

प्रशांत भूषण ने जो तस्वीर साझा की है उसमें बीजेपी के कुछ नेता शपथ ले रहे हैं। एक तरफ बीजेपी नेताओं की तस्वीर है तो दूसरी तरफ हिटलर की शपथ लेते हुए तस्वीर है। फोटो पर लिखा है, इस तरह का सैल्यूट मॉर्डन जर्मनी और ऑस्ट्रिया में प्रतिबंधित है। मॉर्डन पोलैंड और स्लोवाकिया में इसे कानून अपराध के दायरे में रखा गया है। फिर भी सरकार चला रही बीजेपी को इससे दिक्कत क्यों नहीं है?

उनके इस ट्वीट पर ट्विटर यूजर्स ने उन्हें ट्रोल करना शुरू कर दिया। @theindiansss ने लिखा है, बीजेपी की तुलना हिटलर से कर रहा है तो फिर जैस ए मोहम्मद आईएसआईएस जेसो की  तुलना किससे करेगा कांग्रेस पार्टी की तुलना किससे करेगा जो हमेशा देश विरोधी ताकतों के साथ खड़ी रहती है अपने आप की तुलना कैसे करेगा जो हमेशा आतंकियों के साथ खड़ा रहता है। @__radheshyam_ ने लिखा है,वकील साहेब ये तो हमारे विद्यालयों में पिछले 60 साल से ऐसे ही चल रहा है तब तो पूरा गाँधी परिवार ही हिटलर की नीतियाँ अपना रहा है? कोई आपकी प्रतिक्रिया इस पर???

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 43 साल पहले 8 जुलाई को पहली बार साउथ ब्लॉक में पहुंचे थे एस जयशंकर, ट्वीट कर पुराने दिनों को किया याद
2 ‘MSME हो रहे बर्बाद, बैंकों का फूल रहा दम’, अब NPA के जरिए राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर बोला नया हमला
3 CBSE ने नौवीं की किताब से हटाया लोकतांत्रिक अधिकार का चैप्टर, बच्चे नहीं पढ़ पाएंगे धर्मनिरपेक्षता, जाति, धर्म का पाठ
ये पढ़ा क्या?
X