ताज़ा खबर
 

TMC में शामिल हुए प्रणब मुखर्जी के बेटे अभिजीत मुखर्जी, बहन शर्मिष्ठा ने फैसले को बताया दुखद

पिता के राष्ट्रपति बनने के बाद अभिजीत मुखर्जी पहली बार 2012 में सांसद बने थे, साल 2014 के लोकसभा चुनाव में भी उन्होंने जीत दर्ज की थी।

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के बेटे अभिजीत मुखर्जी सोमवार को टीएमसी में शामिल हो गए (फोटो- ANI)

बंगाल में कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है। पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के पुत्र अभिजीत मुखर्जी सोमवार को टीएमसी में शामिल हो गए।कोलकाता में आयोजित एक कार्यक्रम में उन्होंने पार्टी की सदस्यता ली। अभिजीत जंगीपुर सीट से सांसद रह चुके हैं। साल 2019 के लोकसभा चुनाव में वो चुनाव हार गए थे। इधर भाई के टीएमसी में शामिल होने पर प्रणब मुखर्जी की बेटी शर्मिष्ठा मुखर्जी ने दुख जताया है।

अभिजीत मुखर्जी की बहन शर्मिष्ठा मुखर्जी ने ट्वीट कर उनके फैसले पर दुख जताया। बताते चलें कि अभिजीत और शर्मिष्ठा मुखर्जी के बीच पिछले कुछ दिनों से विवाद चल रहा है। पिता के राष्ट्रपति बनने के बाद अभिजीत मुखर्जी पहली बार 2012 में सांसद बने थे, साल 2014 के लोकसभा चुनाव में भी उन्होंने जीत दर्ज की थी। खबरों के अनुसार अभिजीत मुखर्जी जंगीपुर विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ सकते हैं।

बताते चलें कि पिछले कुछ समय से अभिजीत मुखर्जी टीएमसी नेताओं के संपर्क में बताए जा रहे थे। हाल ही में उन्होंने फर्जी वैक्सीन कांड को लेकर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का बचाव किया था।अभिजीत ने ट्विटर पर लिखा था कि किसी व्यक्ति विशेष की गलत हरकत के लिए पश्चिम बंगाल और ममता बनर्जी को जिम्मेवार ठहराना सही नहीं है। अगर ऐसा ही है तो फिर मेहुल चोकसी, नीरव मोदी और विजय माल्या से जुड़े मामलों के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी जिम्मेवार ठहराया जा सकता है।

टीएमसी में शामिल होने के दौरान अभिजीत मुखर्जी ने अभिषेक बनर्जी और ममता बनर्जी को धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि मैं दीदी और अभिषेक के निर्देश पर यहां आया हूं।

अभिजित मुखर्जी ने कहा कि कभी मैंने सरकारी नौकरी छोड़कर कांग्रेस में शामिल हुआ था क्योंकि तब लेफ्ट के खिलाफ माहौल था और ममता उसको लीड कर रही थी। बीजेपी पर हमला करते हुए उन्होंने कहा कि ममता बनर्जी ने एक धार्मिक पार्टी को रोक दिया। उन्होंने कहा कि ममता बनर्जी पूरे भारत मे संघर्ष करेगी और जीतेगी।

Next Stories
1 “चुनाव में तड़पता रहा पर बाहर न आ पाया”, लालू के मन का मलाल
2 महाराष्ट्र विस से 1 साल के लिए 12 भाजपा MLA निलंबित, पीठासीन अधिकारी से बदतमीजी का जुड़ा है केस
3 अगले 48 घंटों में हो सकता है मोदी कैबिनेट का विस्तार, 17-22 सांसद बन सकते हैं मंत्री
ये पढ़ा क्या?
X