कबड्डी खेलते हुए सांसद प्रज्ञा ठाकुर आईं नजर, पत्रकार ने ट्वीट कर कहा- कोर्ट को उन्हें सुनवाई के लिए बुलाना चाहिए

साध्वी प्रज्ञा ठाकुर को अक्सर लोगों ने व्हील चेयर पर ही देखा है, ऐसे मे उनको कबड्डी खेलते हुए देखना लोगों को हैरान कर रहा है।

Pragya Thakur
साध्वी का एक वीडियो पत्रकार साक्षी जोशी ने पोस्ट किया है, जिसमें साध्वी गरबा खेलते हुए दिख रही हैं। (फाइल फोटो)

मध्य प्रदेश के भोपाल से सांसद साध्वी प्रज्ञा ठाकुर का एक वीडियो सामने आया है, जिसमें वह कबड्डी खेलते हुए नजर आ रही हैं। उनके इस वीडियो पर सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर लोग काफी प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं। इस वीडियो को न्यूज24 ने ट्वीट किया है।

इसके अलावा उनका एक वीडियो पत्रकार साक्षी जोशी ने पोस्ट किया है, जिसमें साध्वी गरबा खेलते हुए दिख रही हैं। साक्षी जोशी ने ट्विटर पर लिखा है कि डियर कोर्ट, इन्हें अभी सुनवाई के लिए बुलाएं, वह अपनी सुनवाई को छोड़ने के लिए काफी फिट दिखती हैं।

दरअसल साध्वी प्रज्ञा ठाकुर को अक्सर लोगों ने व्हील चेयर पर ही देखा है, ऐसे मे उनको कबड्डी खेलते हुए देखना लोगों को हैरान कर रहा है।

इस पर एक ट्विटर यूजर @Mukesh__1992 ने लिखा कि वैसे तो लालू भी फिट हैं, सोनिया, राहुल भी फिट हैं।

@Mukesh_sharma71 ने लिखा कि पंडाल से सीधे कोर्ट रुम या अगर हो सके तो जज साहब को गरबा स्थल पर बुला लें!

@D7349181464 नाम के यूजर ने लिखा, ‘काश हमारे भारत में न्याय करने वाली न्यायपालिका होती, ऐसा न्याय जो आम भारतवासियों को दिखाई देता तो ये महिला आतंकवादी कभी भारत की संसद की शोभा नहीं बनती। इस यूजर ने हैशटैग मालेगांव ब्लास्ट का भी इस्तेमाल किया।

बता दें कि इससे पहले जुलाई 2021 में साध्वी प्रज्ञा का बास्केटबॉल खेलते हुए वीडियो वायरल हुआ था। तब भी लोगों ने उनकी व्हीलचेयर को लेकर सवाल उठाए थे। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में वो कोर्ट पर एक प्रोफेशनल खिलाड़ी के तौर पर नजर आईं थीं।

कौन हैं साध्वी प्रज्ञा

प्रज्ञा सिंह ठाकुर मध्यप्रदेश के भोपाल से सांसद हैं। उनके ऊपर आतंकी गतिविधियों से जुड़े हुए आरोप थे। वे साल 2008 में मालेगांव में हुए बम विस्फोट मामले में आरोपी बनाई गई थीं और उन्हें गिरफ्तार किया गया था।

2017 में स्वास्थ्य कारणों से उन्हें जमानत मिल गई थी। साल 2019 के प्रयागराज कुम्भ के दौरान उन्हें ‘भारत भक्ति अखाड़े’ का आचार्य महामण्डलेश्वर घोषित किया गया था और उसके बाद से वह महामण्डलेश्वर स्वामी पूर्णचेतनानन्द गिरी के नाम से जानी जाती हैं।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट