scorecardresearch

कोयले की कमी से गहराया संकट: विभिन्न सूबों में पावर कट के बीच बोली दिल्ली सरकार- मेट्रो, अस्पतालों में आपूर्ति पर पड़ सकता है असर

Delhi Power Crisis Due To Shortage of Coal: दादरी नेशनल कैपिटल पावर स्टेशन और फिरोज गांधी ऊंचाहार थर्मल पावर स्टेशन से बिजली आपूर्ति में कमी के कारण राजधानी में कुछ घंटों के लिए बिजली गुल हो सकती है।

Delhi | Power Crisis| Power outage
सकेंतिक फोटो (एक्सप्रेस फाइल फोटो)

देश में बिजली संकट की स्थिति गहराती जा रही है। इसी बीच दिल्ली सरकार ने गुरुवार को एक नोटिफिकेशन जारी किया, जिसमें कहा गया था कि अगले 24 घंटे में दिल्ली की बिजली आपूर्ति में कमी हो सकती है जिसका असर दिल्ली मेट्रो और अस्पतालों पर भी पड़ सकता है। दिल्ली सरकार की तरफ से यह नोटिफिकेशन तब जारी किया है जब देश में गर्मी के कारण बिजली की मांग अब तक के सबसे उच्चतम स्तर पर हैं और देश कोयले की कमी की समस्या से जूझ रहा है।

जारी नोटिफिकेशन के मुताबिक, दादरी नेशनल कैपिटल पावर स्टेशन और फिरोज गांधी ऊंचाहार थर्मल पावर स्टेशन से बिजली आपूर्ति में कमी के कारण राजधानी में कुछ घंटों के लिए बिजली गुल हो सकती है।

पूरे मामले पर दिल्ली के ऊर्जा मंत्री सत्येंद्र जैन ने समीक्षा बैठक बुलाने और कोयले की पर्याप्त आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए केंद्र सरकार को एक पत्र लिखा है, जिसमें लिखा गया है कि दादरी -ll और ऊंचाहार पावर स्टेशन पर केवल एक-दो दिन के कोयले का स्टॉक बचा है। बता दें, दिल्ली को दादरी -ll, ऊंचाहार, कहलगांव, फरक्का, झज्जर पावर प्लांट मिलकर कुल 1751 मेगावॉट बिजली आपूर्ति करते हैं। इनमें से सबसे अधिक बिजली दिल्ली को दादरी -ll पावर प्लांट से मिलती है।

दरअसल, इस हफ्ते की शुरुआत में केंद्रीय ऊर्जा मंत्री आरके सिंह ने रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव से मुलाकात की थी, जिसमें पावर प्लांट तक जल्द कोयला पहुंचाने के लॉन्ग टर्म और शॉर्ट टर्म प्लांस पर चर्चा हुई थी।

दिल्ली मे बढ़ी बिजली की मांग: अप्रैल के महीने में भीषण गर्मी के कारण दिल्ली के साथ-साथ देश के अन्य हिस्सों में भी बिजली की मांग तेजी से बढ़ रही है। स्टेट लोड डिस्पैच सेंटर के आंकड़ों के अनुसार, बीते गुरुवार को दिल्ली में पहली बार अप्रैल के महीने में बिजली की मांग 6000 मेगावाट के स्तर को पार कर गई जबकि 1 अप्रैल को दिल्ली में बिजली की मांग करीब 4,469 मेगावॉट थी। पावर डिस्कॉम के अधिकारियों के मुताबिक, इस साल दिल्ली में बिजली की मांग 8200 मेगावॉट के स्तर को भी छू सकती है।

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट