ताज़ा खबर
 

नक्सलिययों ने किया नरेंद्र मोदी की बिहार यात्रा को काला दिन बनाने का ऐलान

जहां एक ओऱ कश्मीर में आईएसआई आतंकी संघठन के झंडे फहराए जा रहे हैं तो वहीं दूसरी ओर बिहार यात्रा पर गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के रैली के दिन को नक्सलियों ने काला दिवस के तौर पर मनाने का एलान कर दिया है।

नक्सलियों ने किया बिहार में पीएम नरेंद्र मोदी की यात्रा को काला दिन बनाने का ऐलान

जहां एक ओऱ कश्मीर में आईएसआई आतंकी संघठन के झंडे फहराए जा रहे हैं तो वहीं दूसरी ओर बिहार यात्रा पर गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के रैली के दिन को नक्सलियों ने काला दिवस के तौर पर मनाने का एलान कर दिया है।

प्रधानमंत्री रविवार को गांधी मैदान में परिवर्तन रैली करने वाले हैं और उनकी रैली से पहले ही नक्सलियों ने कल ही गया के ग्रामीण इलाकों में बंद का भी एलान किया है। हालांकि प्रधानमंत्री की रैली को लेकर गया और आसपास के जिलों में सुरक्षा कड़ी कर दी गई है।

उनके लिए विशेष सुरक्षा गार्ड ने गया में रैली की जगह सुरक्षा की जिम्मेदारी संभाल ली है। अभी तक की जानकारी के मुताबिक प्रधानमंत्री के कार्यक्रम में थोड़ा बदलाव हो सकता है। सूत्रों के मुताबिक पीए मोदी बोधगया न जाए और सीधे रैली में शामिल हों। नक्सलियों की बंदी और काला दिवस मनाने की घोषणा के बाद प्रशासन ने इलाके में जांच पड़ताल तेज कर दी है।

जब से काले दिवस का ऐलान हुआ तभी से जिले में जगह जगह चेकिंग की जा रही है और असमाजिक तत्वों पर नजर रखी जा रही है। कल की रैली में मगध और पटना प्रमंडल के लोग शामिल होने वाले हैं। गौरतलब है कि गया, जहानाबाद, औरंगाबाद, अरवल, नवादा, भोजपुर, सासाराम, कैमूर का इलाका नक्सल प्रभावित है।

लोकसभा चुनाव के वक्त हुई नरेंद्र मोदी की रैली में इतनी भीड़ जुटी थी कि काबू करने के लिए पुलिस को लाठी चार्ज करना पड़ा था. प्रधानमंत्री बनने के बाद पीएम मोदी का ये दूसरा बिहार दौरा है।

पिछले महीने की 25 तारीख को पीएम ने मुजफ्फरपुर में रैली की थी। बताया जा रहा है कि रैली की तैयारी समिति के संयोजक केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह के मुताबिक रैली में 5 लाख से ज्यादा लोग शामिल होंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App