ताज़ा खबर
 

जनसंख्या विवादः खाली मुस्लिम पैदा कर रहे बच्चे? लालू के माशाल्लाह कितने बच्चे हैं…दुआ देता हूं और फलें-फूले- बोले AIMIM प्रवक्ता

लालू प्रसाद यादव का जिक्र करते हुए कहा कि आप देखिए बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव के माशाअल्लाह कितने सारे बच्चे हैं। अरे भगवान उन्हें और बच्चे दें।

AIMIM प्रवक्ता वारिस पठान का फाइल फोटो। क्रेडिट- एक्सप्रेस आर्काइव

देश में बढ़ती जनसंख्या को लेकर एक न्यूज़ चैनल पर डिबेट हो रही थी। जिसके दौरान AIMIM के प्रवक्ता ने जनसंख्या नियंत्रण पर पूछे गए एक सवाल का जवाब देते हुए कहा कि बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव के माशाल्लाह कितने सारे बच्चे है। आगे उन्होंने यह भी कहा कि उनका जन्मदिन है वह फलें-फूलें और बढ़े।

दरअसल जनसंख्या नियंत्रण के विषय पर यह डिबेट न्यूज़ 18 इंडिया के एक लाइव शो में हो रही थी। जिसमें AIMIM के प्रवक्ता वारिस पठान ने कहा कि क्या केवल मुसलमान लोग ज्यादा बच्चे पैदा कर रहे हैं? उन्होंने लालू प्रसाद यादव का जिक्र करते हुए कहा कि आप देखिए बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव के माशाल्लाह कितने सारे बच्चे हैं। अरे भगवान उन्हें और बच्चे दें। उन्होंने दुआ करते हुए कहा कि मैं तो कहता हूं कि आज उनका जन्मदिन है। वह और फले फूले और बढ़ें।

उन्होंने अपनी बात को बढ़ाते हुए कहा कि हमारे हिंदू लोग भी हैं। जिनके 5 से 7 बच्चे हैं। हमारे देश का हर बच्चा चाहता है कि वह अच्छी तालीम हासिल करें और आगे बढ़े। उन्होंने असम के मुख्यमंत्री के बयान पर आपत्ति जताते हुए कहा कि उन्होंने गरीबों और मुस्लिम कम्युनिटी का अपमान किया है उनको माफी मांगना चाहिए।

इसी बीच भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने उनको टोकते हुए कहा कि बच्चे तो बाद में देख लेंगे। आप अपनी आवाज कम कर लीजिए। उन्होंने आगे यह भी कहा कि न्यूज़ चैनल पर आवाज कंट्रोल पॉलिसी भी है। वही एंकर अमीश देवगन ने भी वारिस पठान को रोकते हुए कहा कि अब हम संबित पात्रा को भी सुन लेते हैं। इसी दौरान वारिस पठान ने यह भी पूछा कि संबित पात्रा आपके कितने बच्चे हैं? उनके इस सवाल का जवाब ना देते हुए संबित पात्रा ने कहा कि वारिस भाई सुन तो लीजिये। आप लालू प्रसाद यादव को इस उम्र में कह रहे हो कि और बच्चे हो जाए। उनके लिए ऐसा काम करना ठीक नहीं है। संबित पात्रा ने कहा कि वह स्वस्थ रहें और दीर्घायु हो।

आपको बता दें कि असम के मुख्यमंत्री हेमंत बिस्व सरमा ने गुरुवार को गरीबी कम करने के उद्देश्य से जनसंख्या नियंत्रण के लिए अल्पसंख्यक समुदाय से “उचित परिवार नियोजन नीति” अपनाने का अनुरोध किया था। उन्होंने एक बयान देते हुए कहा था कि सरकार सभी गरीब लोगों की संरक्षक है लेकिन उसे जनसंख्या वृद्धि के मुद्दे से निपटने के लिए अल्पसंख्यक समुदाय के सहयोग की जरूरत है। जनसंख्या वृद्धि गरीबी, निरक्षरता मुख्य वजह है और ये सही परिवार नियोजन की कमी के कारण है।

Next Stories
1 कश्मीर में 370 बहाल करने की बात पर दिग्विजय सिंह का भाजपा को जवाब, कहा- भ्रम का शिकार हैं, मोदी-शाह को हटाने को तैयार कांग्रेस
2 12 करोड़ की फीस ले “सीता” बनेंगी करीना कपूर खान, ट्विटर पर होने लगा तगड़ा बहिष्कार, कंगना का फोटो शेयर कर बोले लोग- सिर्फ वो हैं सही उम्मीदवार
3 केजरीवाल राशन माफिया के सरगना- बीजेपी विधायक का आरोप, AAP प्रवक्ता का पलटवार- थोड़ा भारत भ्रमण कर के आएं, छह-छह बार लोगों को दुकान पर जाना पड़ता है…
ये पढ़ा क्या?
X