ताज़ा खबर
 

ममता के अगुवा बनकर पवार से मिले PK? मोदी सरकार के खिलाफ विपक्ष को लामबंद करने का हो सकता है प्लान

विपक्षी दलों के शासन वाले राज्यों में काफी समय से चर्चा हो रही है कि 2024 के लोकसभा चुनाव में भाजपा को हराने वाला चेहरा किसका हो सकता है, ऐसे में प्रशांत किशोर का अलग-अलग राज्यों के नेताओं से मिलना अहम संकेत।

राकांपा नेता शरद पवार से मिलने उनके घर पहुंचे प्रशांत किशोर।

पश्चिम बंगाल में दो महीने पहले हुए विधानसभा चुनाव में तृणमूल कांग्रेस की जीत की पटकथा लिखने वाले राजनीतिक रणनीतिकार प्रशांत किशोर अब 2024 के लोकसभा चुनाव की तैयारियों में जुट सकते हैं। इसके संकेत भी मिलने लगे हैं। दरअसल, कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया गया है कि पीके शुक्रवार को राकांपा नेता शरद पवार से मिलने उनके घर पहुंचे। माना जा रहा है कि यह कदम उन्होंने ममता बनर्जी के कहने पर उठाया है।

गौरतलब है कि विपक्षी दलों के शासन वाले राज्यों में काफी समय से चर्चा हो रही है कि 2024 के लोकसभा चुनाव में भाजपा को हराने वाला चेहरा किसका हो सकता है। ऐसे में बंगाल चुनाव में जीत के बाद प्रशांत किशोर और शरद पवार की बैठक के कई मायने निकाले जा रहे हैं। एक मीडिया समूह ने तो सूत्रों के हवाले से यहां तक दावा किया कि प्रशांत किशोर शुक्रवार को ही मुंबई में बॉलीवुड मेगास्टार शाहरुख खान से मुलाकात करेंगे।

चुनावी रणनीतिकार की भूमिका छोड़ने का ऐलान कर चुके हैं किशोर: पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में भाजपा को हराने में अहम भूमिका निभाने वाले प्रशांत किशोर ने नतीजे घोषित होने के बाद ही ऐलान कर दिया था कि वे चुनावी रणनीतिकार का पद छोड़ने वाले हैं। उन्होंने कहा था कि मैं अब यह जगह खाली कर रहा हूं। हालांकि, उन्होंने यह भी कहा था कि पश्चिम बंगाल में भाजपा तेजी से जगह बना रही है और बड़ी ताकतवर पार्टी के तौर पर उभर रही है।

लोकसभा के साथ विधानसभा में भी विपक्ष को एकजुट रखने की कवायद: बता दें कि हाल ही में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात के बाद राजनीतिक जगत में कयास लग रहे थे कि शिवसेना महाविकास अघाड़ी से पलटी मार सकती है है। इसके बाद संजय राउत ने भी नरेंद्र मोदी को सबसे अच्छा प्रधानमंत्री करार दिया था। इन घटनाक्रमों के बाद गुरुवार को ही शरद पवार ने शिवसेना को भरोसेमंद साथी करार देते हुए कहा था कि उनकी सरकार कार्यकाल पूरा करेगी। यानी पवार 2024 के विधानसभा चुनावों तक गठबंधन को बनाते हुए केंद्र में भी विपक्ष को एकजुट रखने के लिए जूझ रहे हैं।

Next Stories
1 2024 पर दीदी से क्या हुई बात? टिकैत बोले- क्या गुणा-भाग है, ये तो गांव के लोग बता सकते हैं
2 दिल्ली में 80 मिनट तक PM मोदी से CM योगी की बात, फिर नड्डा से साधा संवाद; जितिन पा सकते हैं ‘प्रसाद’
3 मास्क लगा आपको बीमार बना दिया गया, नहीं मानता कोरोना…कम मनोबल वाले मर रहे- महंत नरसिंहानंद सरस्वती का बयान
ये पढ़ा क्या?
X