ताज़ा खबर
 

कमलेश तिवारी मर्डर: मां का दावा- पुलिस के दबाव में मजबूरन सीएम योगी से करनी पड़ी मुलाकात

तिवारी की मां कुसुमा ने इस मुलाकात पर असंतोष जताते हुए कहा कि पुलिस के दबाव की वजह से उन्हें मजबूरन मुख्यमंत्री से मिलने जाना पड़ा। उन्होंने यह भी कहा कि बैठक के दौरान मुख्यमंत्री के हावभाव उनकी उम्मीद के मुताबिक नहीं थे।

Author नई दिल्ली | Updated: October 21, 2019 10:06 AM
उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ और कमलेश तिवारी की माँ

Kamlesh Tiwari Murder: उत्तरप्रदेश के मुख्­यमंत्री योगी आदित्­यनाथ ने हाल में लखनऊ में मारे गये हिन्­दू समाज पार्टी के नेता कमलेश तिवारी के परिजन से रविवार को मुलाकात की। तिवारी की मां ने इस मुलाकात पर असंतोष जताया है। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि मुख्­यमंत्री ने अपने आवास पर तिवारी की मां कुसुमा, पत्­नी किरण और परिवार के कुछ अन्य सदस्यों से मुलाकात की। इस दौरान उन्­होंने पीड़ित परिवार को पूरी मदद का आश्­वासन देते हुए कहा कि सरकार इस गम्­भीर मामले की गहराई से जांच कर रही है और इसके दोषी लोगों को कतई बख्­शा नहीं जाएगा।

हालांकि, तिवारी की मां कुसुमा ने इस मुलाकात पर असंतोष जताते हुए कहा कि पुलिस के दबाव की वजह से उन्हें मजबूरन मुख्यमंत्री से मिलने जाना पड़ा। उन्होंने यह भी कहा कि बैठक के दौरान मुख्यमंत्री के हावभाव उनकी उम्मीद के मुताबिक नहीं थे। संवाददाताओं के इस सवाल पर कि क्या वह मुख्यमंत्री से हुई मुलाकात से संतुष्ट हैं, कुसुमा ने कहा ””संतुष्ट क्या होंगे? हमने (मुख्यमंत्री से) पूछा कि क्यों (कमलेश की) सुरक्षा हटायी गयी, क्यों उसका बेरहमी से कत्ल हुआ।

हिन्दू धर्म में (घर में किसी की मृत्यु हो जाने पर) 13 दिन कहीं बाहर नहीं निकला जाता है, मगर उनका (मुख्यमंत्री) का आदेश था, इसलिये पुलिसवाले मेरे पीछे पड़े थे, तो हमें मजबूरी में मिलने जाना पड़ा।” उन्होंने कहा ””हमारी इच्छा के मुताबिक न तो उनका (मुख्यमंत्री) हाव था न भाव। अगर संतुष्ट होते तो हमारा क्रोध क्यों उबलता? हम स्वयं तलवार उठाएंगे, अगर हमें इंसाफ नहीं मिला।” कुसुमा ने भाजपा के एक स्थानीय नेता शिव कुमार गुप्ता पर जमीन के विवाद को लेकर अपने बेटे की हत्या का इल्जाम लगाया है, मगर अभी उसके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई है।

दूसरी ओर, मुख्­यमंत्री से मुलाकात के बाद तिवारी की पत्­नी किरण ने बताया कि योगी ने हरसम्­भव कार्रवाई का आश्­वासन दिया है। हम उनसे हुई मुलाकात से संतुष्­ट हैं। इस बीच, समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने राजधानी लखनऊ में शुक्रवार को मारे गये हिन्दू समाज पार्टी के नेता कमलेश तिवारी के परिजन से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मुलाकात पर कहा कि उम्मीद है कि योगी ऐसी ही हमदर्दी हाल में अन्य जिलों में मारे गये लोगों के परिवारजन के प्रति भी दिखायेंगे।

प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश ने ”ट्वीट” किया ”प्रदेश की राजधानी में सरेआम हुई बेखौफ हत्या के शिकार मृतक के शोक संतप्त परिवार से मिलना यथोचित कदम है।” उन्होंने तंज कसते हुए कहा, ‘आशा है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ऐसी ही सहृदयता इलाहाबाद, कन्नौज, झांसी और मेरठ में भी प्रकट करने जाएंगे, जहां प्रदेश की बदहाल कानून- व्यवस्था के शिकार अन्य लोगों के परिजन रहते हैं।” इस बीच, हत्­याकांड की तफ्तीश में पता चला है कि संदिग्­ध हत्­यारोपी नाका हिंडोल क्षेत्र के ही एक होटल में ठहरे थे।

पुलिस महानिदेशक ओम प्रकाश सिंह ने बताया कि होटल के र्किमयों के मुताबिक दोनों ने अपना नाम शेख अशफाकुल हुसैन और मुईनुद्दीन पठान बताया था। हत्­याकांड वाले दिन वे दोनों भगवा कुर्ते पहनकर होटल से निकले थे और उनके हाथ में एक मिठाई का डिब्­बा था। उन्­होंने बताया कि वे लोग 17 अक्­टूबर को होटल आये थे और 18 की दोपहर वे चले गये थे। उनके कमरे के बेड पर भगवा रंग का कुर्ता पड़ा था, उस पर खून के निशान हैं। मौके पर मिले तौलिये में भी खून लगा है। एक नये मोबाइल का डिब्­बा भी मौके से मिला है। विवेचना के क्रम में यह एक बड़ी उपलब्धि है। पुलिस जल्­द ही हत्­यारों तक पहुंच जाएगी।

गौरतलब है कि हिन्दू समाज पार्टी के अध्यक्ष कमलेश तिवारी की शुक्रवार को नाका ंिहडोला स्थित खुर्शेदबाग इलाके में उनके घर के अंदर गला रेतकर और गोली मारकर हत्या कर दी गयी थी। इस हत्याकांड के सिलसिले में बिजनौर निवासी आरोपियों मुफ्ती नईम काजमी और मौलाना अनवारुल हक के साथ गुजरात में सूरत के रहने वाले फैजान यूनुस, मोहसिन शेख और राशिद अहमद को हिरासत में लेकर पूछताछ की गयी है। मामले की जांच के लिये एसआईटी का गठन किया गया है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 कमलेश तिवारी हत्याकांड के दो आरोपी भागे नेपाल, गुजरात एटीएस जांच में जुटी
2 DRDO बना रहा हाइपरसोनिक मिसाइल, आवाज से 5 गुना रफ्तार से दुश्मनों पर करेगा वार!
3 स्कूल में डीएम के स्वागत के लिए प्लास्टिक बैग में आई थी फूलों की माला, प्रिंसिपल पर ठोका 1000 का जुर्माना
यह पढ़ा क्या?
X