ताज़ा खबर
 

कुमार विश्वास का ट्वीट, ‘…माना हम गधे हैं, पर तसल्ली है कि खूंटे से न बंधे हैं’; ट्रोल्स बोले- खूंटा ही कमजोर था

लोगों ने कहा कि आपने कोशिश तो की थी, पर खूंटा ही कमजोर और बौना निकला। राज्यसभा की सीट न मिली, तो आप भाग भी निकले।

Author नई दिल्ली | Updated: November 21, 2019 11:53 PM
जाने-माने कवि और पूर्व AAP नेता कुमार विश्वास। (फोटोः फेसबुक/KumarVishwas)

कवि और पूर्व AAP नेता कुमार विश्वास गुरुवार को सोशल मीडिया पर ट्रोल कर दिए गए। वजह बना- उन्हीं का एक ट्वीट। उन्होंने इसमें लिखा था, “खेमेबाज़ों की नज़र में माना कि हम गधे हैं, पर तसल्ली है कि किसी के खूंटे से नहीं बंधे हैं।”

इसी को लेकर सोशल मीडिया यूजर्स ने न सिर्फ उनके मजे लिए बल्कि जमकर ट्रोल भी किया। लोगों ने कहा कि आपने कोशिश तो की थी, पर खूंटा ही कमजोर और बौना निकला। राज्यसभा की सीट न मिली, तो आप भाग भी निकले। यही नहीं, कुछ लोगों ने मीम, फोटो और वीडियो के जरिए भी उनकी चुटकी ली और ट्वीट किए।

दरअसल, विश्वास ने BHU विवाद पर ट्वीट किया था, “स्व.मदनमोहन मालवीय के पौत्र न्यायमूर्ति गिरधर मालवीय संस्कृत प्रोफेसर फिरोज के विरोध से दुखी होकर कह रहे हैं कि आज मालवीय जी होते तो इस विरोध-प्रदर्शन से दुखी होते। पर सवाल यह है कि सनातन धर्म का “स” तक न जानने वाले राजनैतिक लंपटों से कैसे निबटते महामना?”

इसे रीट्वीट करते हुए ग्वालियर में Jiwaji University के कुलानुशासक प्रो.एस.के सिंह ने लिखा, “130 करोड़ में आप जैसे चंद लोग ही हैं जो सही को सही और गलत को गलत कहने की हिम्मत करते हैं। वरना यही लगता रहता है कि अमुक व्यक्ति या तो इस तरफ़ है या उस तरफ!”

जवाब में विश्वास ने यह ट्वीट किया, जिस पर उन्हें ट्रोल्स का शिकार होना पड़ा। देखें, लोगों ने कैसे उन्हें ट्रोल कियाः

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 कभी मानती थीं नित्यानंद को गुरु, अब बोलीं, ‘मुझे बरगलाया गया था’; ‘गुरुकुल’ में डंडों से पीटे जाते थे बच्चे- खुलासा
2 पूर्व RBI गवर्नर ने PM नरेंद्र मोदी के सपनों पर खड़े किये सवाल, कहा- 2025 तक 5 ट्रिलियन इकॉनोमी मुश्किल
3 VIDEO: चर्चा में बोले CPI नेता- NRC लिस्ट में नाम दर्ज न कराने जाए 1 भी मुस्लिम, BJP प्रवक्ता ने पूछा- कानून से ऊपर है मुसलमान?
जस्‍ट नाउ
X