ताज़ा खबर
 

पीएनबी से हासिल रकम को नीरव मोदी ने बहन, पत्‍नी, पिता की फर्मों में लगाया : ईडी

पंजाब नेशनल बैंक से लेटर ऑफ अंडरटेकिंग के जरिए नीरव मोदी द्वारा कथित रूप से डाइवर्ट किए गए 1015 मिलियन डॉलर में 927 मिलियन डॉलर की सुरागकशी प्रवर्तन निदेशालय ने कर ली है।

नीरव मोदी को मार्च के दूसरे सप्‍ताह में, लंदन की सड़कों पर देखा गया था। (File Photo)

खुशबू नारायण, सदफ मोदक

भगोड़े हीरा व्‍यापारी नीरव मोदी के खिलाफ जांच कर रहे प्रवर्तन निदेशालय (ED) को कुछ महत्‍वपूर्ण सबूत हाथ लगे हैं। संयुक्‍त अरब अमीरात (UAE) की जिन क्रेडिटर फर्मों को पंजाब नेशनल बैंक (PNB) के लेटर ऑफ अंडरटेकिंग (LoU) के जरिए पैसा मिला, वे ब्रिटिश वर्जिन आइलैंड्स (BVI) से निगमित थीं। 2012 तक इन फर्मों से सीधे-सीधे मोदी की बहनों नीशल मोदी और पूर्वी मोदी को फायदा पहुंचा। 28 फरवरी को मुंबई की एक अदालत में दायर 122 पन्‍नों की पूरक शिकायत में ईडी ने कहा है कि UAE की ट्राइ कलर जेम्‍स FZE, दियाजेम्‍स FZC, पैसिफिक डायमंड्स FZE and यूनिवर्सल फाइल जूलरी FZE को BVI की कंसल्टिंग फर्म ट्राइडेंट ट्रस्‍ट कंपनी ने साथ मिलाया था।

दिसंबर 2011 और अक्‍टूबर 2012 के बीच, इन फर्मों को कथ‍ित तौर पर PNB के LoUs के जरिए 76.14 मिलियन डॉलर (5,30 करोड़ रुपये) की रकम हासिल हुई। अभी तक प्रवर्तन निदेशालय ने PNB से LoU के जरिए नीरव द्वारा कथित रूप से डाइवर्ट किए गए 1015 मिलियन डॉलर में 927 मिलियन डॉलर की सुरागकशी कर ली है। एजंसी ने 6498 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी में नीरव की पत्‍नी अमी मोदी और युनाइटेड किंग्‍डम और स्विट्जरलैंड की उसकी तीन कंपनियों- नीरव मोदी लिमिटेड, यानिके प्रॉपर्टीज लिमिटेड, डॉयमंड होल्डिंग्‍स S.A. को भी आरोपी बनाया है।

ईडी की जांच में सामने आई यह बातें

– मोदी की बहन पूर्वी मोदी ने दुबई की अपनी ‘शैडो कंपनी’ फाइन क्‍लासिक FZE के LoUs से मिले 89 मिलियन डॉलर में से 26 मिल‍ियन डॉलर अमी मोदी को अमेरिका में दो प्रॉपर्टी खरीदने के लिए दिए।

– पैसिफिक डायमंड्स FZE ने कथित तौर पर 171 करोड़ डॉलर मोदी के पिता दीपक मोदी और उनकी फर्म Chang Jiang S.A. को डाइवर्ट किए। सूत्रों ने कहा कि पैसिफिक डायमंड्स ने LoU के पैसों में से 1.4 मिलियन डॉलर भगोड़े हीरा व्‍यापारी मेहुल चोकसी की पत्‍नी प्रीति प्रद्योतकुमार कोठारी के स्‍वामित्‍व वाली दो कंपनियों को डाइवर्ट किए।

– दीपक मोदी उन दो अमेरिकी कंपनियों का कथ‍ित लाभार्थी है जिन्‍होंने “दुबई और हांगकांग में नीरव मोदी ग्रुप की डमी कंपनियों से अमेरिका की बैली बैंक्‍स & बिडल को 42.8 मिलियन दिए।”

नीरव मोदी के वकील विजय अग्रवाल ने हमारे फोन कॉल्‍स और टेक्‍स्‍ट संदेशों का जवाब नहीं दिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 समझौता ब्लास्ट: फैसला टला, असीमानंद की मुश्किल बढ़ेगी, पाकिस्तानी महिला बोलीं- दूंगी गवाही
2 Hindi News Today, 12 March 2019 Updates: पूर्व रालोसपा नेता ने उपेंद्र कुशवाहा पर 15 करोड़ रुपये मांगने का लगाया आरोप
3 राज्यों को सार्वजनिक इस्तेमाल की इजाजत