ताज़ा खबर
 

पराक्रम पर्व : जानिए पीएम नरेंद्र मोदी ने भारतीय सेना के लिए गुजराती में क्‍या लिखा

भारतीय सेना ने दो साल पहले पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (पीओके) में सर्जिकल स्ट्राइक की थी। देश के जांबाज कमांडोज ने तब वहां घुस कर तबाही मचाई और आतंकियों के बेस कैंप को नेस्तनाबूद कर दिया था।

पीएम नरेंद्र मोदी पराक्रम पर्व के मौके पर कोणार्क वॉर मेमोरियल में अपना संदेश लिखते हुए। फोटो- पीटीआई

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार (28 सितंबर) को जोधपुर में थे। यहां पर उन्होंने कोणार्क वॉर मेमोरियल पर देश के वीर सैनिकों को अपनी श्रद्धांजलि दी। श्रद्धांजलि के बाद प्रधानमंत्री ने विजिटर बोर्ड पर देश के सैनिकों के लिए अपना संदेश भी लिखा, ये संदेश उन्होंने गुजराती ​में लिखा था। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, पीएम नरेंद्र मोदी ने लिखा,” भारत अपनी वीर सेना की शक्ति पर गर्व करता है, जिन्होंने मातृभूमि की सुरक्षा पूरी तत्परता और समर्पण के साथ की है।” ये बातें पीएम ने कोणार्क वॉर मेमोरियल की विजिटर बुक में लिखी हैं।

प्रधानमंत्री, इससे पहले दिन में जोधपुर आए थे। उन्होंने हवाई अड्डे पर तीनों सेनाओं की सलामी गारद का निरीक्षण किया। इसके बाद प्रधानमंत्री ने सेना की तीन दिवसीय प्रदर्शनी ‘पराक्रम पर्व’ का भी उदघाटन किया। ये प्रदर्शनी सर्जिकल स्ट्राइक की दूसरी वर्षगांठ पर लगाई गई है। सर्जिकल स्ट्राइक भारतीय सेना के वीर जवानों ने एलओसी के पार पाक अधिकृत कश्मीर में बने आतंकवादियों के अड्डों पर की थी।

गुजराती में लिखे अपने संदेश में प्रधानमंत्री ने आगे लिखा,” मैं बहादुर जवानों को अपने दिल से बधाई देता हूं जिन्होेंने सर्वोच्च बलिदान देकर हर पीढ़ी के लिए प्रेरणा का प्रतीक स्थापित किया।” तीन दिवसीय इस कार्यक्रम का आयोजन कोणार्क कॉर्प्स ने किया है। इस कार्यक्रम का उद्देश्य भारतीय सेना की क्षमता और राष्ट्र निर्माण में उसके योगदान के बारे में बताना है। पराक्रम पर्व को 30 सितंबर तक मनाया जाएगा।

बाद में, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी सेनानायकों की संयुक्त कॉन्फ्रेंस में हिस्सा लिया। इस बैठक में रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण, रक्षा राज्य मंत्री सुभाष भमरे, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोवल भी शामिल रहे। रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण और राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने कोणार्क वॉर मेमोरियल पर शहीदों को अपनी श्रद्धांजलि भी अर्पित की।

वैसे बता दें कि भारतीय सेना ने दो साल पहले पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (पीओके) में सर्जिकल स्ट्राइक की थी। देश के जांबाज कमांडोज ने तब वहां घुस कर तबाही मचाई और आतंकियों के बेस कैंप को नेस्तनाबूद कर दिया था। गुरुवार (27 सितंबर) को पाकिस्तान के खिलाफ उसी बड़ी सैन्य कार्रवाई के दो वीडियो समाचार एजेंसी एएनआई ने जारी किए थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App