ताज़ा खबर
 

जब पीएम मोदी ने पूछा- मेरा गिफ्ट कहां है? नहीं मिला तो खींचा बच्‍चे का कान

पीएम मोदी करीब 20 मिनट तक बच्चों के साथ रहे। इन 20 मिनटों में पीएम मोदी ने बच्चों के साथ उनके परिवार और पढ़ाई को लेकर बातें की। पीएम मोदी ने बच्चों को अपने बचपन में सीखे गए गिनती सीखने के रोचक तरीके भी बताए।

पीएम मोदी बच्चों से बात करते हुए। (PM Modi’s facebook account via PTI)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आजकल वाराणसी के दौरे पर हैं। सोमवार को अपने 68वें जन्मदिन के मौके पर भी पीएम मोदी वाराणसी में रहे और यहां गरीब बच्चों के साथ अपना जन्मदिन मनाया। तय कार्यक्रम के अनुसार, सोमवार शाम साढ़े सात बजे पीएम मोदी वाराणसी के डीरेका गेस्ट हाउस पहुंचे। इस दौरान बच्चे वहां पहले से मौजूद थे। पीएम मोदी को अपने बीच पाते ही बच्चे खुशी से झूम उठे। सभी बच्चों ने पीएम मोदी को हैप्पी बर्थडे डियर मोदी जी…कहकर स्वागत किया। बच्चों के इस स्वागत से पीएम मोदी भी मुस्कुराते दिखाई दिए। बता दें कि कार्यक्रम में शामिल बच्चे कूड़ा बीनने वाले बच्चे थे, जिन्हें ट्राई टू फाईट संस्था के सदस्य पढ़ाते हैं।

कार्यक्रम के दौरान बच्चों ने पीएम मोदी को अपने हाथों से बनी पेंटिंग उपहारस्वरुप दी। पीएम मोदी डीरेका गेस्ट हाउस के पार्क में बेंच पर बैठे थे। पीएम मोदी ने कुछ बच्चों को अपने पास बेंच पर बैठाकर उनसे बात भी की। हिंदुस्तान की एक खबर के अनुसार, जब बच्चे पीएम मोदी को अपनी बनायी पेंटिंग गिफ्ट के रुप में दे रहे थे, तब एक बच्चे रवि ने दूसरे बच्चे रिशु के हाथ से पेंटिंग लेकर पीएम मोदी को दे दी। जब रिशु की बारी आयी तो पीएम मोदी ने उससे पूछा कि उनका गिफ्ट कहां है? इस पर रिशु ने बड़ी ही मासूमियत से जवाब दिया कि मेरा गिफ्ट रवि ने छीन लिया। पीएम मोदी बच्चे के इस जवाब को सुनकर मुस्कुराए और प्यार से रिशु का कान खींचा और उसकी पीठ थपथपाई। बच्चों ने पीएम मोदी को कविताएं और गीत भी सुनाए। पीएम मोदी ने बच्चों को सीख देते हुए ये भी कहा कि यदि हौंसले बुलंद हों तो कोई बाधा आपको आगे बढ़ने से नहीं रोक सकती।

पीएम मोदी करीब 20 मिनट तक बच्चों के साथ रहे। इन 20 मिनटों में पीएम मोदी ने बच्चों के साथ उनके परिवार और पढ़ाई को लेकर बातें की। पीएम मोदी ने बच्चों को अपने बचपन में सीखे गए गिनती सीखने के रोचक तरीके भी बताए। पीएम मोदी ने इन बच्चों को पढ़ाने वाली संस्था ट्राई टू फाईट के सदस्यों से भी बात की और उनके काम की सराहना की। बता दें कि ट्राई टू फाईट संस्था के सदस्य कूड़ा बीनने वाले इन बच्चों को भारत माता मंदिर में पढ़ाते हैं। पीएम मोदी ने संस्था के सदस्यों से उनके काम और उनके सामने आने वाली चुनौतियों के बारे में भी बात की। इस दौरान संस्था के सदस्यों ने बताया कि इन बच्चों में नशे की लत एक बड़ी समस्या थी। पहले ये बच्चे तंबाकू और गुटखा खाते थे, लेकिन अब इन्होंने नशा छोड़ दिया। इस पर पीएम मोदी ने भी चिंता जताते हुए कहा कि यह बड़ी समस्या है और हम सभी को मिलकर इस समस्या का समाधान करना होगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App