वैष्‍णो देवी यूनिवर्सिटी में PM मोदी ने कहा- कहीं लड़कों को रिजर्वेशन की जरूरत न पड़ जाए - Jansatta
ताज़ा खबर
 

वैष्‍णो देवी यूनिवर्सिटी में PM मोदी ने कहा- कहीं लड़कों को रिजर्वेशन की जरूरत न पड़ जाए

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को जम्‍मू कश्‍मीर के कटरा में श्री माता वैष्‍णो देवी यूनिवर्सिटी में दीक्षांत समारोह में कहा कि अवसर से नहीं बल्कि हौसले से रास्‍ते बनते हैं।

जम्‍मू कश्‍मीर की वैष्‍णो देवी यूनिवर्सिटी के दीक्षांत समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को जम्‍मू कश्‍मीर के कटरा में श्री माता वैष्‍णो देवी यूनिवर्सिटी में दीक्षांत समारोह में कहा कि अवसर से नहीं बल्कि हौसले से रास्‍ते बनते हैं। उन्‍होंने कहा कि टैक्स से तो कई यूनिवर्सिटीज चलती हैं लेकिन चढ़ावे से चलने वाली ये अकेली यूनिवर्सिटी है। गरीब के पैसे से चलनी वाली ये यूनिवर्सिटी एक अजूबा कही जा सकती है। हिंदुस्तान के हर कोने के गरीब लोगों ने मां वैष्णो के चरणों में कुछ दिया होगा। इसी के चलते ये पुण्य काम हुआ। इससे पहले पीएम मोदी ने श्री माता वैष्णो देवी नारायण सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल का उद्घाटन भी किया। इस पर 300 करोड़ रुपये खर्च हुए हैं।

उन्‍होंने कहा कि दीक्षांत समारोह का सबसे पहला उदाहरण तैत्तरीय उपनिषद में मिलता है। ये परंपरा हजारों सालों से चली आ रही है। दीक्षांत समारोह का मतलब है, जो शिक्षा मिली है, उससे समाज को बेहतर बनाने की दीक्षा लेना। हम लोगों को रास्ता निकालना आता है। इस देश के वैज्ञानिकों की ताकत देखिए, कम खर्च में मार्स मिशन को अंजाम दे दिया। पीएम ने लड़कियों की उपलब्धियों की तारीफ करते हुए कहा कि कहीं ऐसा न हो कि आगे जाकर लड़कों को रिजर्वेशन की जरूरत पड़े।

उन्‍होंने कहा कि सोमवार को एक बेटी ने ओल‍ंपिक के लिए क्‍वालिफाई कर देश का नाम रोशन किया। लोग आपको भटकाने का प्रयास करेंगे तब आपको कॉलेज के दिन याद आएंगे। आपके दिमाग में भी यह चल रहा होगा कि आगे क्‍या होगा। लेकिन जो व्‍यक्ति यह जानता है कि आगे क्‍या होने वाला है उसे दूसरो पर आश्रित नहीं होना पड़ता। जो आप हासिल नहीं कर पाए उसे भूल जाइए। इसके बजाय सोचिए आपने क्‍या हासिल किया है। आप जो कुछ भी हैं उस बात की खुशी मनाइए न कि आप क्‍या बन सकते थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App