ताज़ा खबर
 

अमेरिकी सांसदों ने रखी मांग-कांग्रेस में भाषण देने के लिए नरेंद्र मोदी को बुलाएं

अगर नरेंद्र मोदी अमेरिका जाते हैं तो दो वर्षो के भीतर उनकी अमेरिका की यह चौथी यात्रा होगी। हालांकि, अभी इस बारे में न तो व्हाइट हाउस और न ही पीएमओ से ही कोई आधिकारिक घोषणा हुई है।
Author वाशिंगटन | April 20, 2016 18:25 pm
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जून में अमेरिका की यात्रा पर जाने की उम्मीद है। अमेरिका के शीर्ष सांसदों के एक समूह ने प्रतिनिधि सभा के स्पीकर से आग्रह किया है कि भारतीय प्रधानमंत्री को संयुक्त सत्र को संबोधित करने के लिए आमंत्रित किया जाए। मोदी की दो वर्षो के भीतर अमेरिका की चौथी यात्रा होगी।

सांसद एड रॉयस, इलियट एंजेल, जार्ज होल्डिंग और एमी बेरा ने प्रतिनिधि सभा के पॉल रियान को लिखे पत्र में कहा कि भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इस वर्ष सात और आठ जून को वाशिंगटन की यात्रा पर आने की उम्मीद है। रक्षा, मानवीय और आपदा राहत, अंतरिक्ष सहयोग, संरक्षण एवं नवोन्मेष समेत व्यापक क्षेत्रों में भारत के साथ हमारे गहरे संबंधों को देखते हुए कांग्रेस (अमेरिका संसद का एक सदन) को प्रधानमंत्री को सीधे सुनने का अवसर प्रदान करने का यह उपयुक्त मौका है।

Read Also: NIT श्रीनगर के छात्रों की मांग, कैंपस आकर तिरंगा फहराएं मोदी

19 अप्रैल को लिखे अपने पत्र में कहा कि इसलिए हम आग्रह करते हैं कि आप प्रधानमंत्री मोदी को कांग्रेस की संयुक्त बैठक को संबोधित करने के लिए आमंत्रित करें । हमारी यह समझ है कि अगर आमंत्रित किया जाए तब प्रधानमंत्री उसे स्वीकार कर लेंगे।

Read Also: क्‍वॉन्‍टम फिजिक्‍स समझाकर छाए कनाडा के पीएम, सोशल मीडिया पर मोदी की साइंस की नॉलेज से तुलना

बहरहाल, अभी इस यात्रा के बारे में न तो व्हाइट हाउस और न ही पीएमओ से ही कोई आधिकारिक घोषणा हुई है। अमेरिकी सांसदों के समूह ने कहा कि भारत के साथ अमेरिका के संबंध कानून के शासन, चुनावी लोकतंत्र और धार्मिक बहुलतावाद समेत साझे मूल्यों पर आधारित हैं। पत्र में कहा गया है कि नये सिरे से आगे बढ़े गठजोड़ को मजबूत बनाने में यहां के दोनों दलों ने महत्वपूर्ण भूमिका निभायी जिसमें राष्ट्रपति बिल क्लिंटन और राष्ट्रपति जार्ज डब्ल्यू बुश का नेतृत्व और भारतीय अमेरिकी समुदाय का योगदान रहा है।

रॉयस सदन के विदेशी मामलों की समिति के अध्यक्ष है जबकि एंजेल रैकिंग सदस्य तथा होल्डिंग और बेरा भारत और भारतीय अमेरिकी सांसदों के समूह के सह अध्यक्ष हैं।

अमेरिका के चार सांसदों ने 19 अप्रैल को लिखे अपने पत्र में कहा, ‘‘इसलिए हम आग्रह करते हैं कि आप प्रधानमंत्री मोदी को कांग्रेस की संयुक्त बैठक को संबोधित करने के लिए आमंत्रित करें। हमारी यह समझ है कि अगर आमंत्रित किया जाए तब प्रधानमंत्री उसे स्वीकार कर लेंगे।’’ बहरहाल, अभी इस यात्रा के बारे में न तो व्हाइट हाउस और न ही नयी दिल्ली में प्रधानमंत्री कार्यालय से ही कोई आधिकारिक घोषणा हुई है।

अमेरिकी सांसदों के समूह ने कहा कि भारत के साथ अमेरिका के संबंध कानून के शासन, चुनावी लोकतंत्र और धार्मिक बहुलतावाद समेत साझे मूल्यों पर आधारित हैं। पत्र में कहा गया है कि नये सिरे से आगे बढ़े गठजोड़ को मजबूत बनाने में यहां के दोनों दलों ने महत्वपूर्ण भूमिका निभायी जिसमें राष्ट्रपति बिल क्लिंटन और राष्ट्रपति जॉर्ज डब्ल्यू बुश का नेतृत्व और भारतीय अमेरिकी समुदाय का योगदान रहा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.